Nic Pothas: Several positive aspects for Sri Lanka in 1st Test vs India
निक पोथास © AFP

घरेलू सीरीज में भारत के खिलाफ 9-0 से हारने के श्रीलंका पहले टेस्ट मैच में मेजबान टीम को चुनौती देने में सफल रहा।  मुख्य कोच निक पोथास के अनुसार यह टीम के लिए सबसे बड़ा सकारात्मक पहलू है। पोथास ने मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘श्रीलंका में हम किसी भी सीरीज में चुनौती पेश नहीं कर पाये थे। यहां पहले टेस्ट मैच में हम बेहद प्रतिस्पर्धी रहे और यह बड़ा सकारात्मक पहलू है। टीम से जुड़े हर व्यक्ति को श्रेय जाता है। हम अधिक मजबूत बन गये हैं। हमें यूएई में सफलता मिली और हमने यहां अच्छा खेल दिखाया।’’

विराट कोहली की तुलना सचिन तेंदुलकर से करना जल्दबाजी: सौरव गांगुली
विराट कोहली की तुलना सचिन तेंदुलकर से करना जल्दबाजी: सौरव गांगुली

श्रीलंका को तीन महीने पहले भारत ने उसकी सरजमीं पर तीनों प्रारूपों में 9-0 से हराया था लेकिन इसके बाद उसने यूएई में पाकिस्तान से दोनों टेस्ट मैच जीतकर वापसी की थी। तेज गेंदबाज सुरंगा लकमल ने दोनों पारियों में भारत को परेशान किया। उन्होंने सात विकेट लिये। भारतीय कप्तान विराट कोहली की नाबाद 104 रन की पारी से मैच का पासा पलटा।पोथास ने कहा कि दो दिग्गजों माहेला जयवर्धने और कुमार संगकारा के संन्यास लेने के बाद बदलाव के दौर से गुजर उनकी टीम चुनौती के लिये तैयार है।

उन्होंने कहा, ‘‘प्रक्रिया की शुरूआत श्रीलंका में हो गयी थी। चीजों में रातों रात बदलाव नहीं आया। हमने पाकिस्तान के खिलाफ दो अच्छे टेस्ट मैच खेले और यहां चुनौती पेश की लेकिन अभी हमें लंबी राह तय करनी है। भविष्य में यह बेहतरीन टीम बनने जा रही है और इसमें कोई संदेह नहीं है।’’ भुवनेश्वर कुमार और मोहम्मद शमी की घातक गेंदबाजी के सामने श्रीलंका ने दूसरी पारी में सात विकेट 75 रन पर गंवा दिये थे लेकिन इससे पोथास ज्यादा परेशान नहीं हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘जब आप सात विकेट गंवाते हो तो यह चिंता का विषय है लेकिन मुझे लगता है कि भारत के खिलाफ लगातार दो श्रृंखलाओं से श्रीलंका को भविष्य में मजबूत टीम बनने में मदद मिलेगी। जब आप मजबूत टीमों के खिलाफ दबाव की परिस्थितियों में खेलते हो तो बेहतर टीम बनते हो। विकेट गंवाना चिंता का विषय है लेकिन हमने जिस तरह की चुनौती पेश की मैं उससे अधिक उत्साहित हूं।’’