युवराज सिंह के भाई जोरावर सिंह की पत्नी ने दर्ज कराई है शिकायत? © AFP
युवराज सिंह के भाई जोरावर सिंह की पत्नी ने दर्ज कराई है शिकायत? © AFP

क्रिकेट खिलाड़ी युवराज सिंह का नाम उनकी भाभी आकांक्षा शर्मा द्वारा दायर की गई घरेलू हिंसा से जुड़ी शिकायत में आया है। घरेलू हिंसा का ये मामला मुख्य तौर पर युवराज के छोटे भाई जोरावर सिंह और उनकी मां शबनम सिंह के खिलाफ दायर किया गया है। हालांकि, उनके परिवार के वकील का कहना है कि इस तरह का कोई भी मामला दर्ज नहीं किया गया है। युवराज के भाई जोरावर और उनकी मां शबनम के खिलाफ घरेलू हिंसा की शिकायत दर्ज की गई है। शिकायतकर्ता आकांक्षा का आरोप है कि उन्हें मानसिक और वित्तीय रूप से यातनाएं दी गई।कोर्ट ने युवराज और उनके परिवार को नोटिस जारी कर इसका जवाब मामले की पहली सुनवाई की तारीख 21 अक्टूबर को देने को कहा है।

आकांक्षा ने कहा कि उनके ससुराल वालों ने उन पर मां बनने का जोर डाला। इसके साथ ही उन्होंने अपनी शिकायत में युवराज का नाम लेते हुए कहा कि वह एक मूकदर्शक की तरह उनके परिवार वालों को उन्हें परेशान करते हुए देखते थे। समाचार चैनल ‘सीएनएन-न्यूज-18’ ने आकांक्षा के हवाले बताया कि ऐसा एक दिन भी नहीं होता था, जब वह रोती नहीं थीं। इस मामले की जांच एसडीएम या महिला पुलिस अधिकारी करेगी, जो अपनी रिपोर्ट अदालत को सौंपेंगे। आकांक्षा की वकील स्वाति सिंह ने एक वेबसाइट को दिए बयान में बताया कि आकांक्षा ने युवराज, जोरावर और उनकी मां शबनम के खिलाफ घरेलू हिंसा की शिकायत दर्ज कराई है।

स्वाति ने कहा, “घरेलू हिंसा का मतलब शारीरिक यातना ही नहीं होता है। इसका अर्थ मानसिक और वित्तीय रूप से दी गई यातनाएं भी होती हैं। इसके लिए युवराज को भी जिम्मेदार ठहराया जा सकता है, क्योंकि वह एक मूकदर्शक की तरह मेरी मुवक्किल पर होते अत्याचारों को देखते रहे।” वकील ने कहा कि जब जोरावर और जोरावर की मां आकांक्षा पर बच्चे के लिए दबाव डाल रहे थे, तो युवराज ने भी उनका साथ दिया। वह भी आकांक्षा पर मां बनने के लिए दबाव डाल रहे थे। वह अपनी मां के साथ मिले हुए थे।

देशभर में दीवाली की धूम, क्रिकेट दिग्गजों ने ऐसे दी बधाई
देशभर में दीवाली की धूम, क्रिकेट दिग्गजों ने ऐसे दी बधाई

युवराज, शबनम और जोरावर के वकील दलबीर सिंह सोबती ने बुधवार को चंडीगढ़ में जारी एक प्रेस रिलीज में कहा, “सोशल मीडिया में कई गलत बातें फैलाई गई हैं, जिसमें कहा गया कि मेरे मुवक्किल के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। ये सारे आरोप गलत हैं। ऐसी कोई भी एफआईआर और शिकायत दर्ज नहीं की गई है।” वकील ने कहा, “आकांक्षा ने घरेलू हिंसा अधिनियम, 2005 से महिलाओं के संरक्षण की धारा 25 के तहत एक याचिका दायर की है और मेरे मुवक्किल को आरोपी बनाया।” अकांक्षा ने कलर्स चैनल पर बिग बॉस सीजन-10 के शो में हिस्सा लिया था और युवराज की मां शबनम और भाई जोरावर के खिलाफ कुछ अपमानजनक बयान भी दिए थे।