चैम्पियंस लीग के फाइनल मुकाबले में कोई भी पसंदीदा टीम नहीं: पेपे
फोटो साभार www.skysports.com

रियल मेड्रिड के डिफेंडर पेपे ने मंगलवार को कहा कि शनिवार को होने वाले चैम्पियंस लीग के फाइनल मुकाबले में कोई भी पसंदीदा टीम नहीं है। पेपे ने क्लब को फाइनल तक पहुंचाने वाले कोच जिनेदिन जिदान की भी तारीफ की, जिन्हें राफेल बेनित्ज के स्थान पर इस पद पर नियुक्त किया गया था। मिलान में 28 मई को होने वाले चैम्पियंस लीग फाइनल में रियल का मुकाबला एटलेटिको मेड्रिड से होगा।

समाचार एजेंसी एफे के अनुसार, पेपे ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, “फाइनल में कोई भी टीम विशेष रूप से किसी की पसंदीदा नहीं है। रियल और एटलेटिको दोनों के जीतने के अवसर 50-50 हैं। अपने इतिहास के कारण रियल हो सकता है, लेकिन इस तरह के खेल में कोई भी टीम खास नहीं होती और जो अच्छा खेले, वहीं जीतेगी।”

लिस्बन में दो वर्ष पहले हुए चैम्पियंस लीग फाइनल में एटलेटिको से मिली हार के बारे में पेपे ने कहा कि वह खत्म हो चुका है और रियल का अब शनिवार को होने वाले मैच पर ध्यान देना ज्यादा जरूरी है।

रियल की आधिकारिक वेबसाइट के अनुसार, पेपे ने कहा, “जिदान हमारे कोच हैं। मैं नहीं जानता कि अगर बेनित्ज होते तो क्या होता?”

पेपे ने कहा कि जिदान टीम को फाइनल में लेकर आए हैं और आशा है कि क्लब इस खिताब को जीते।