भारतीय टीम के अनुभवी बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) और अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) ने फॉर्म में आने के संकेत दे दिए हैं. रविवार को जब भारतीय टीम लॉर्ड्स टेस्ट (India vs England) की दूसरी पारी में अपने शुरुआती 3 विकेट गंवाने के बाद मुश्किल में थी, तब आउट ऑफ फॉर्म चल रहे इन दोनों बल्लेबाजों ने सूझबूझ का परिचय देते हुए भारतीय टीम को मुश्किल से निकाल दिया.

रहाणे (Ajinkya Rahane) ने शानदार फिफ्टी जमाई और वह 61 रन बनाकर मोईन अली का शिकार बने, जबकि भरोसेमंद बल्लेबाज पुजारा (Cheteshwar Pujara) ने भले 45 रन की पारी खेली हो लेकिन इस दौरान उन्होंने 206 गेंदों का सामना किया, जिससे उनका मनोबल जरूर बढ़ा होगा. हालांकि टीम इंडिया अभी मैच में अपना शिकंजा नहीं कस पाई है और अभी भी मैच का रुख इंग्लैंड की ओर झुका हुआ है. लेकिन टीम के बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़ (Vikram Rathour) को उम्मीद है कि जल्दी ही भारतीय बल्लेबाज अब रन बनाएंगे. उन्होंने कहा कि खराब फॉर्म खेल का हिस्सा है और उनके बल्लेबाज इससे पार पाने के लिए नेट्स पर खूब अभ्यास कर रहे हैं.

राठौड़ (Vikram Rathour) चौथे दिन का खेल खत्म होने के बाद वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करने आए थे. इस दौरान उनसे पूछा गया कि क्या विदेश में बल्लेबाजों के लगातार खराब प्रदर्शन से उन पर दबाव बना है, उन्होंने कहा, ‘नहीं , बिल्कुल नहीं.’

उन्होंने कहा, ‘हम काफी मेहनत कर रहे हैं. यह अलग तरह की स्थिति है और हम खिलाड़ियों के साथ काफी मेहनत कर रहे हैं. वे अपनी ओर से पूरी कोशिश कर रहे हैं, मेहनत कर रहे हैं और अभ्यास कर रहे है. नतीजे जल्दी ही आएंगे.’

भारत के इस बल्लेबाजी कोच ने कहा, ‘क्रिकेट खेलते समय बतौर बल्लेबाज खराब दौर भी आता है. आपको उससे पार पाने के लिए कड़ी मेहनत करनी होती हे और प्रक्रिया सही रखनी होती है. सहयोगी स्टाफ के रूप में हम ऐसा करने में उनकी मदद कर रहे हैं.’

राठौड़ (Vikram Rathour) ने कहा, ‘जहां तक हम पर दबाव की बात है तो ऐसा नहीं है. लेकिन बहुत मेहनत करने के बाद भी कोई नाकाम होता है तो चिंता होती है. हमें सभी बल्लेबाजों पर भरोसा है और वे काफी मेहनत कर रहे हैं. जल्दी ही रन भी बनाएंगे.’

(इनपुट: एजेंसी)