On-field umpires around the world are no longer keeping an eye on the bowlers’ front foot: Ricky Ponting
Ishant Sharma (File Photo) © Getty Images

भारत और ऑस्‍ट्रेलिया के बीच खेले जा रहे एडिलेड टेस्‍ट के दौरान खराब अंपायरिंग चर्चा में है। चौथे दिन इशांत शर्मा ने कई गेंद नो बॉल डॉली, लेकिन ऑन फील्‍ड अंपायर इसपर ध्‍यान नहीं दे पाए। ऑस्‍ट्र‍ेलिया की टीम के पूर्व कप्‍तान रिकी पोंटिंग का मानना है कि इन दिनों दुनिया भर के क्रिकेट में ये देखा गया है कि ऑन फील्‍ड अंपायर गेंदबाजों के फ्रंट फुट पर ज्‍यादा ध्‍यान नहीं दे रहे हैैं।

क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू से बातचीत के दौरान पोंटिंग ने कहा, “मैं कई सालों से ये बात कहता आ रहा हूं। मुझे लगता है कि इन दिनों अंपायर फ्रंट फुट पर ज्‍यादा ध्‍यान नहीं देते हैं। आज के मैच के दौरान भी कुछ ऐसा ही देखने को मिला। इशांत शर्मा का पैर लाइन से 4 से 6 इंज आगे था और अंपायर इसे देख पाने से चूक गए। अगर विकेट गिर जाए तभी वो इस तरफ ध्‍यान देने लगते हैं। मेरी नजर में ये गलत है।”

रिकी पोंटिंग ने कहा, “ये अंपायर की जिम्‍मेदारी है कि वो मैच के दौरान नो बॉल को पकड़ें। मैं ये नहीं कह रहा हूं कि अंपायर सभी नाे बॉल पकड़ पाएगा, लेकिन अगर गेंदबाज का पैर लाइन से 6 इंच आगे है वो तब तो अंपायर की नजर इसपर जानी ही चाहिए।”

पोंटिंग ने कहा कि इशांत ने कई गेंद नो बॉल फेंकी, लेकिन किसी की इसपर नजर नहीं पड़ी। जब इशांत ने एरोन फिंच को आउट किया तो इसपर नजर गई। श्रीलंका के अंपायर कुमार धर्मसेना ने इसपर अपनी उंगली उठा दी, लेकिन रिप्‍ले के दौरान पाया गया कि इशांत का पैर लाइन से आगे है।

रिकी पोंटिंग ने कहा, “अगर मैं विराट कोहली की जगह होता तो मैं ये जरूर जानना चाहता कि मेरा गेंदबाज बार-बार ओवर-स्‍टेप कर गेंदबाजी डाल रहा है। ताकि मैं उसे वापस सही तरीके से ट्रैक पर लाने के लिए कह पाता।”

बता दें कि हाल ही में खत्‍म हुई श्रीलंका-इंग्‍लैंड सीरीज के दौरान ब्रॉडकास्‍टर स्‍काय स्‍पोर्ट्स ने अपने आकलन में पाया कि श्रीलंका के स्पिन गेंदबाज लक्ष्‍ण संदाकन की तीसरे टेस्‍ट में 40 प्रतिशत गेंद नो बॉल थी, लेकिन ऑन फील्‍ड अंपायर ने एक भी गेंद को नो बॉल नहीं दिया। उन्‍होंने बेन स्‍टोक्‍स को दो बार आउट किया, लेकिन बाद में तीसरे अंपायर ने इसे नो बॉल करार दिया।

साल 2016 में आईसीसी में इस बात को लेकर चर्चा हुई थी कि नो बॉल को लेकर तीसरा अंपायर नजर रखेगा। मैच के दौरान नो बॉल होने पर वो तुरंत ही इसकी जानकारी फील्‍ड अंपायर को  देंगे। हालंकि इसपर अबतक अमल नहीं किया गया है। रिकी पोंटिंग ने जल्‍द से जल्‍द इस सिस्‍टम को अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में लाने की वकालत की।