On this day, Sachin Tendulkar registered maiden ODI  double century
sachin Tendulkar © Getty Images

बात आठ साल पुरानी है। वनडे क्रिकेट में दोहरा शतक लगाना किसी सपने से कम नहीं समझा जाता था। कई खिलाड़ी 200 रन के इस जादुई आंकड़े के करीब तो पहुंचे, लेकिन इसे छू नहीं सके। कभी ओवरो की कमी में खिलाड़ी 200 तक नहीं पहुंच पाए तो कभी इतने विशाल स्‍कोर तक पहुंचने के मानसिक दबाव में ही आउट हो गए। 24 फरवरी का ही वो दिन था। ग्‍वालियर के क्रिकेट ग्राउंड पर क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर खेलने उतरे। सामने थी दक्षिण अफ्रीका की टीम। सचिन जब खेलने आए तो किसी ने यह कल्‍पना भी नहीं की थी कि आज वनडे क्रिकेट का वो रिकॉर्ड टूटने वाला है जो उस वक्‍त तक कोई भी क्रिकेटर नहीं पा सका था।

भारत में पहले डे-नाइट टेस्‍ट के मुद्दे पर बीसीसीआई-सीओए आमने सामने
भारत में पहले डे-नाइट टेस्‍ट के मुद्दे पर बीसीसीआई-सीओए आमने सामने

वैसे तो सचिन तेंदुलकर नर्वस नाइनटीज का शिकार होने के लिए जाने जाते हैं। अक्‍सर वो शतक के बेहद करीब पहुंचकर खराब शॉट लगाकर आउट हो जाते हैं, लेकिन वह दिन सचिन तेंदुलकर का ही  था। उन्‍होंने 147 गेंदों पर 200 रन बनाकर वनडे क्रिकेट में इतिहास रच डाला। सचिन 25 चौके और तीन छक्‍के लगाकर इस मैच में नाबाद रहे। वनडे क्रिकेट के इतिहास का यह पहला दोहरा शतक आज भी सभी के जहन में है। आइसीसी ने ट्वीट कर आठ साल पहले बने इस रिकॉर्ड के बारे में सचिन के प्रशंसकों को जनकारी दी।

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले गए इस दूसरे वनडे मैंच में भारत ने मेहमानों को 402 रनों का लक्ष्‍य दिया था। रनों का पीछा करते हुए दक्षिण अफ्रीका की टीम 248 के स्‍कोर पर ही ढेर हो गई। सचिन के दोहरे शतक के बाद मनों वनडे क्रिकेट में दोहरा शतक लगाने का सिलसिला शुरू हो गया। रोहित शर्मा अबतक तीन बार दोहरा शतक बना चुके हैं। विस्‍फोटक बल्‍लेबाज वीरेंदर सहवाग सहित कई विदेशी खिलाड़ी भी 200 रन के आकड़े को छू चुके हैं।