रविचंद्रन अश्विन © IANS
रविचंद्रन अश्विन © IANS

रविचंद्रन अश्विन भारतीय पिचों पर बेहद ही खतरनाक गेंदबाजी कर रहे हैं और लगातार विपक्षी टीमों के लिए सिरदर्दी बने हुए हैं। घरेलू पिचों पर अश्विन के प्रदर्शन से टीम को भी फायदा मिल रहा है। लेकिन विदेशों में अश्विन के प्रदर्शन पर मुरली कार्तिक ने उम्मीद जताई है कि वह वहां भी ऐसा ही प्रदर्शन कर सकें। बकौल कार्तिक ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रीका की पिचें भारतीय पिचों की तरह नहीं होतीं इसलिए विदेशों में अश्विन अच्छा कर पाएंगे इसकी कोई गारंटी नहीं है। आपको बता दें कि अश्विन ने हाल ही में खेले गए चौथे टेस्ट मैच में 12 विकेट लिए थे।

कार्तिक ने कहा, ‘मैं इस पर टिप्पणी करने वाला कोई नहीं होता (कि क्या अश्विन विदेशों में भी इतने ही कारगर साबित होंगे) लेकिन मैं इतना जानता हूं कि विदेशों कि पिचें भारत के मुकाबले काफी अलग होती हैं और ये समय ही बताएगा कि वहां अश्विन कैसा प्रदर्शन कर पाते हैं।’ अश्विन और विराट कोहली के बेहतरीन प्रदर्शन की मदद से भारत लगातार अच्छे खेल रहा है और पिछली पांच टेस्ट सीरीज जीत चुका है। अश्विन की प्रतिभा पर किसी को भी संदेह नहीं है लेकिन घरेलू मैचों में अश्विन की गेंदबाजी का औसत 26 मैचों में 20 से थोड़ा ऊपर है तो वहीं विदेशी सरजमीं पर खेले गए 17 टेस्ट मैचों में उनका औसत 33.23 का है।  ये भी पढ़ें: भारत बनाम इंग्लैंड चेन्नई टेस्ट के लिए गर्म कोयले से सुखाई जा रही है पिच

अब ये देखना वाकई दिलचस्प होगा कि अश्विन अगले साल विदेशी सरजमीं पर कैसा प्रदर्शन करते हैं। फिलहाल मौजूदा सीरीज में अश्विन बेहद ही अच्छा खेल रहे हैं और उनकी गेंदबाजी की बदौलत भारत ने इंग्लैंड पर 3-0 की अजेय बढ़त बना ली है।