सलामी बल्लेबाज प्रियांक पांचाल ने घरेलू क्रिकेट में पिछले कुछ समय से ढेरों रन बनाए हैं. गुजरात के शीर्ष क्रम के बल्लेबाज प्रियांक पांचाल अच्छी तरह से समझते हैं कि वर्तमान भारतीय टेस्ट टीम में उनके लिए जगह बनाना आसान नहीं है लेकिन वह दौड़ में बने रहने के लिए लगातार रन बनाना जारी रखना चाहते हैं.

वर्ल्ड कप जीत के हीरो रहे इस भारतीय खिलाड़ी पर गंभीर आरोप, लगा 1 साल का बैन

भारतीय बल्लेबाजी लाइनअप में शीर्ष क्रम में रोहित शर्मा और मयंक अग्रवाल हैं जबकि शुभमन गिल और पृथ्वी शॉ उनके ‘बैकअप’ हैं. ऐसे में घरेलू स्तर पर प्रथम श्रेणी मैचों में लगातार रन बनाने के बावजूद पांचाल के पास इंतजार करने के अलावा कोई विकल्प नहीं है.

इस 29 वर्षीय बल्लेबाज ने बंगाल के खिलाफ ईडन गार्डन्स में शुक्रवार से शुरू होने वाले रणजी मैच से पूर्व पत्रकारों से कहा, ‘मुझे खुशी है कि मैं चर्चा का हिस्सा हूं. मेरे लिए लगातार रन बनाना अधिक महत्वपूर्ण हैं. मैं केवल इसी पर ध्यान दे रहा हूं.’

पांचाल इसके बाद भारत ए टीम के साथ न्यूजीलैंड दौरे पर जाएंगे जहां पहला चार दिवसीय मैच 30 जनवरी से दो फरवरी के बीच खेला जाएगा. पांचाल और बंगाल के कप्तान अभिमन्यु ईश्वरन के बीच एक ही स्थान के लिए प्रतिस्पर्धा है और वे भारत ए से नियमित तौर पर खेलते रहते हैं.

साल 2020 में भी भारतीय क्रिकेट टीम के सामने वर्ल्ड कप में नॉकआउट से आगे बढ़ने की होगी चुनौती, जानिए पूरा शेड्यूल

पांचाल ने कहा, ‘हम अच्छे प्रदर्शन के कारण इस स्थिति में पहुंचे हैं. मेरे लिए प्रदर्शन सबसे अधिक मायने रखता है और टीम की जीत भी महत्वपूर्ण है. हम एक-दूसरे का सम्मान करते हैं और लंबे समय से साथ में खेल रहे हैं.’

प्रियांक ने 90 फर्स्ट क्लास मैचों में 22 शतकों के साथ कुल 6417 रन बनाए हैं जिसमेंं नाबाद  364 रन सर्वोच्च निजी स्काेेर है. लिस्ट ए के 68 मैचोंं में उनके नाम 4 शतक दर्ज हैं.