पाकिस्तान टीम © AFP
पाकिस्तान टीम © AFP

पाकिस्तान और वर्ल्ड इलेवन के बीच खेले गए पहले टी20 मुकाबले को पाकिस्तान ने 20 रनों से जीतकर 3 मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली। पाकिस्तान ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवरों में 5 विकेट खोकर 197 रनों का स्कोर खड़ा किया और वर्ल्ड इलेवन के सामने 198 रनों का लक्ष्य रखा। पाकिस्तान की तरफ से बाबर आजम ने (86) और शोएब मलिक ने (38) रनों की पारी खेली। जवाब में वर्ल्ड इलेवन की टीम ने 20 ओवरों में 7 विकेट के नुकसान पर 177 रन ही बना सकी और मुकाबले को 20 रनों से हार गई। पाकिस्तान की तरफ से सोहेल खान, रुमन रईस और शादाब खान ने 2-2 विकेट हासिल किए।

198 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी वर्ल्ड इलेवन की तरफ से तमीम इकबाल और हाशिम आमला ने पारी की शुरुआत की। दोनों बल्लेबाजों ने टीम को बेहतरीन शुरुआत दी और आते ही तेजी से रन बनाए। हालांकि इसी दौरान रुमन रईस ने तमीम (18) को आउट कर पाकिस्तान को पहली सफलता दिला दी। अभी टीम पहले झटके से उबर भी नहीं पाई थी कि उसी ओवर में रईस ने आमला (26) को भी आउट कर वर्ल्ड इलेवन को बैकफुट पर धकेल दिया। 2 विकेट गिर जाने के बाज कप्तान डू प्लेसी और पेन ने पारी को संभालने की कोशिश की।

हालांकि पाकिस्तान के गेंदबाज कसी हुई गेंदबाजी कर रहे थे और बल्लेबाजों को आसानी से हाथ खोलने का मौका नहीं दे रहे थे। इसके बावजूद दोनों बल्लेबाजों इक्का-दुक्का रन लेकर स्कोर को आगे बढ़ाते रहे और मौका मिलने पर गेंद को बाउंड्री के बाहर भी पहुंचाते रहे। 10 ओवरों के बाद दोनों बल्लेबाजों ने तेजी से रन बनाए और रन रेट को बढ़ाने की कोशिश करने लगे। 12वां ओवर करने आए हसन अली के ओवर में डू प्लेसी ने 4 चौके और 1 छक्का जड़कर ओवर में कुल 22 रन ठोक डाले। जब लग रहा था कि डू प्लेसी खतरनाक साबित हो सकते हैं, तभी शादाब ने डू प्लेसी (29) को आउट कर अपनी टीम को तीसरी सफलता दिला दी। वर्ल्ड इलेवन के खिलाफ मैच से पहले पाकिस्तानी फैंस को आ रही है विराट और धोनी की याद!

इसके बाद वर्ल्ड इलेवन के विकेट गिरने का सिलसिला जारी रहा और पेन (25) भी सोहेल का शिकार होकर पवेलियन लौट गए। वर्ल्ड इलेवन की टीम पर रनरेट बढ़ाने का दवाब लगातार बढ़ रहा था। तेजी से रन बनाने के चक्कर में मिलर (9) रन बनाकर पांचवें विकेट के रूप में आउट हुए। परेरा ने आते ही तेजी से रन बनाए और अपनी टीम को मुकाबले में बनाए रखा। हालांकि सोहेल ने एलियट (14) को आउट कर अपनी टीम का पलड़ा मजबूत कर दिया। किसी तरह टीम के बल्लेबाजों ने स्कोर को 150 के पार पहुंचाया। 19वें ओवर में सैमी ने 2 छक्के जड़कर कुछ अच्छे हाथ दिखाए। लेकिन तब तक मैच में पाकिस्तान ने पूरी तरह से अपनी पकड़ बना ली थी। परेरा (17) रन बनाकर सातवें विकेट के रूप में आउट हुए। अंत में वर्ल्ड इलेवन की टीम 20 ओवरों में 177/7 का स्कोर बना सकी और मुकाबले को हार गई।

इससे पहले टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी पाकिस्तान की टीम को फखर जमान ने तेज शुरुआत देने की कोशिश की और पहले ओवर की पहली दो गेंदों पर दो चौके जड़े। हालांकि मॉर्केल ने उसी ओवर में फखर (8) को आउट कर पाकिस्तान को पहला झटका दे दिया। पहला विकेट गिरने के बाद अहमद शहजाद और बाबर आजम ने पारी को संभाला और तेजी से रन बनाए। दोनों बल्लेबाजों ने तेजी से रन बनाते हुए वर्ल्ड इलेवन के गेंदबाजों को बैकफुट पर ला दिया। दोनों बल्लेबाजों ने स्कोर को 50 के पार पहुंचा दिया।दोनों खिलाड़ियों ने दूसरे विकेट के लिए अर्धशतकीय साझेदारी की। इसी बीच बाबर आजम ने अपना अर्धशतक भी पूरा किया। दोनों बल्लेबाजों ने रन बनाने का सिलसिला जारा रखा और स्कोर को 100 के पार पहुंचा दिया।

बाबर आजम बेहद तेजी से बल्लेबाजी कर रहे थे और उन्होंने अपने टी20 करियर का सर्वश्रेष्ठ स्कोर बनाया। इसी बीच बेन कटिंग ने शहजाद (39) को आउट कर पाकिस्तान को दूसरा झटका दिया। जब लग रहा था कि बाबर अपना शतक लगा लेंगे तभी इमरान ने उन्हें (86) रनों पर आउट कर पाकिस्तान को तीसरा झटका दे दिया। हालांकि इसके बाद मलिक ने तेजी से रन बनाते हुए टीम का स्कोर 150 रनों के पार पहुंचा दिया। मलिक एक छोर पर रन बना रहे थे तो दूसरे छोर पर विकेट गिरते जा रहे थे। परेरा ने सरफराज (4) को आउट कर पाकिस्तान को चौथा झटका दे दिया।

मलिक ने आखिरी ओवरों में बेहद तेजी के साथ बल्लेबाजी की। उन्होंने 19वें ओवर में कटिंग की पहली 3 गेंदों पर लगातार 3 चौके जड़े। मलिक ने 19वें ओवर में कुल 15 रन बटोरे। आखिरी ओवर की दूसरी गेंद पर मलिक (38) रन बनाकर आउट हो गए। आखिर में पाकिस्तान ने 20 ओवरों में 197 रन बनाए। वर्ल्ड इलेवन की तरफ से परेरा ने 2, मॉर्ने मॉर्केल, बेन कटिंग, इमरान ताहिर ने 1-1 विकेट हासिल किए।