पाकिस्‍तान के खिलाड़ियों के लिए शुक्रवार को बोर्ड से एक बुरी खबर आई. पाकिस्‍तान क्रिकेट बोर्ड की तरफ से यह घोषणा की गई है कि केंद्रीय अनुबंध वाले खिलाड़ी अब दुनिया भर में केवल चार ही टी20 लीग में खेल पाएंगे. इन चार लीग में घरेलू टूर्नामेंट पीएसएल को भी शामिल किया जाएगा.

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने अनुबंधित खिलाड़ियों के लिये अनापत्ति प्रमाणपत्र (एनओसी) जारी करने की नयी नीति घोषित की है. इस नयी नीति के अनुसार एनओसी का आग्रह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट संचालन विभाग और राष्ट्रीय टीम के मुख्य कोच-टीम प्रबंधन के जरिये किया जाएगा.

‘इस फैसले के बाद केंद्रीय अनुबंध वाले खिलाड़ियों को पीएसएल के अलावा तीन विदेशी लीगों के लिये ही आवेदन करने की अनुमति मिलेगी.

पीसीबी ने इसके साथ ही एनओसी जारी करने या नामंजूर करने में अंतिम फैसला बोर्ड के मुख्य कार्यकारी का होगा.

खिलाड़ियों के लिए विभिन्‍न क्रिकेट लीग में खेलने की संख्‍या निर्धारित करने के लिए लंबे समय से दुनिया भर के बोर्ड चर्चा कर रहे हैं. ज्‍यादा लीग में खेलकर पैसा कमाने के चक्‍कर में खिलाड़ी चोटिल हो जाते हैं. जिसके कारण वो राष्‍ट्रीय टीम को वक्‍त नहीं दे पाते हैं.

वेस्‍टइंडीज के बहुत से खिलाड़ियों ने लीग क्रिकेट में खेलने के कारण अब राष्‍ट्रीय टीम के लिए खेलना ही बंद कर दिया है. हालांकि भारतीय खिलाड़ियों के साथ ऐसी स्थिति नहीं है. बीसीसीआई अपने खिलाड़ियों को अन्‍य देशों की लीग में खेलने की इजाजत नहीं देता है. युवराज सिंह जैसे खिलाड़ी को अन्‍य देशों की लीग में खेलने के लिए संन्‍यास तक लेना पड़ा.