मैच फिक्सिंग करने वालों पर आजीवन प्रतिबन्ध लगाना चाहिए: मोहम्मद आमिर
फोटो साभार www.sportstarlive.com

स्पाट फिक्सिंग के कारण पांच साल प्रतिबंध झेल चुके पाकिस्तान के तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर ने कहा कि इस तरह का काम करते इस खेल को बदनाम करने वालों पर आजीवन प्रतिबंध लगना चाहिए। साल 2010 में लार्ड्स टेस्ट में स्पॉट फिक्सिंग के आरोपों में तीन महीने जेल में बिता चुके आमिर अगले महीने इंग्लैंड के दौरे पर फिर एक बार इसी मैदान पर उतरेंगे।

बीबीसी ने शनिवार को आमिर के हवाले से लिखा, “मैं फिक्सरों पर आजीवन प्रतिबंध लगाने के विचार से पूरी तरह सहमत हूं। अगर फिक्सिंग अभी भी हो रही है तो यह चिंता का विषय है।”

आमिर ने कहा कि वह वाकई भाग्यशाली हैं कि वह दोबारा मैदान पर कदम रख पाए।  उन्होंने कहा, “मैं टेस्ट क्रिकेट के लिए तैयार हूं क्योंकि यहीं से मेरा करियर बिगड़ा था। मुझे अभी भी विश्वास नहीं हो रहा है कि सब ठीक हो गया है।”

आमिर और उनके साथी मोहम्मद आसिफ को जानबूझ कर नो-बाल फेकने को दोषी पाया गया था। इन दोनों के साथ पाकिस्तान के तत्कालिन टेस्ट कप्तान सलमान बट को भी अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने फरवरी 2011 में भ्रष्टाचार का दोषी पाया था जिसके बाद कानूनी कार्रवाई के दौरान इन्हें नवंबर में जेल भेज दिया गया था। [ये भी पढ़ें: ]

आमिर ने कहा, “मेरे विचार में यह जरूरी बन गया है कि आईसीसी आगे आए और कहे कि अगर कोई खिलाड़ी मैच या फिर स्पॉट फिक्सिंग में पकड़ा गया तो उस पर आजीवन प्रतिंबध लगा दिया जाएगा।”