पूर्व पाकिस्तानी कप्तान शाहिद आफरीदी (Shahid Afridi) का कहना है कि उन्होंने हमेशा ही भारत-पाकिस्तान मुकाबले का लुत्फ उठाया है। आफरीदी ने ये दावा कि किया की उनकी अगुवाई में पाकिस्तान टीम ने टीम इंडिया को इतना मारा की मैच के बाद भारतीय खिलाड़ी उनसे मांफी मांगने लगे थे।

क्रिक कास्ट शो के दौरान आफरीदी ने ये बयान दिया। उन्होंने कहा, “मैं हमेशा ही भारत का लुत्फ उठाया है। उन्होंने को ठीक ठाक मारा है हमे। इतना माना उन्हें कि मैच के बाद माफियां मांगी उन्होंने।”

आफरीदी ने भारत के खिलाफ खेली अपनी पसंदीदा पारी को याद किया। उन्होंने कहा, “मेरी सबसे यादगार पारी थी भारक के खिलाफ भारत में बनाए 141 रनों की पारी। मैं उस दौरे पर नहीं जाने वाला था। वो मुझे नहीं ले जा रहे थे। वसीम भाई और मुख्य चयनकर्ता ने मेरा साथ दिया। वो मेरे लिए मुश्किल दौरा था और वो पारी मेरे बेहद अहम थी।”

साल 2016 में आफरीदी ने बयान दिया था कि उन्हें भारतीय फैंस से हमेशा की प्यार और समर्थन मिला है। पूर्व क्रिकेटर ने कहा कि वो आज भी उस बयान पर कायम हैं। उन्होंने कहा, “मैं आज भी उस पर कायम हूं। जब मैंने किसी बात पर विश्वास किया तो मैंने बाद में माफी भी मांग ली। अल्ला ने मुझे बड़ा दिल दिया है और मैं अपनी कह गलत चीजों के लिए माफी मांग सकता हूं।”

उन्होंने कहा, “2016 में जब हम टी20 विश्व कप के लिए भारत गए थे तब हालात मुश्किल थे। हमें नहीं पता था कि हमें भारत जाने दिया जाएगा या नहीं। मैं वहां ना केवल पाकिस्तान टीम के कप्तान के तौर पर बल्कि अपने देश के राजदूत के तौर पर गया था इसलिए मुझे उसके हिसाब से हालात से निपटना था।”

दिग्गज ऑलराउंडर ने आखिर में कहा, “जब मैंने ये कहा था कि मुझे भारतीय दर्शकों से बहुत समर्थन मिला तो वो बयान केवल पढ़े-लिखे, समझदार लोगों के लिए था।”