सरफराज अहमद और फाफ डु प्लेसी © Getty Images
सरफराज अहमद और फाफ डु प्लेसी © Getty Images

वर्ल्ड इलेवन और पाकिस्तान के बीच मंगलवार से 3 टी20 मैचों की सीरीज का आगाज हो रहा है। सीरीज के तीनों मैच लाहौर के गद्दाफी स्टेडियम में खेले जाएंगे। लाहौर में आज इस सीरीज की ट्रॉफी का अनावरण किया गया। इस मौके पर पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद और वर्ल्ड इलेवन के कप्तान फाफ डु प्लेसी भी मौजूद थे। इस सीरीज को इंडिपेंडेंस कप का नाम दिया गया है।

आपको बता दें इस सीरीज से पाकिस्तान में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी हो रही है। साल 2009 में श्रीलंका की टीम पर हुए आतंकी हमले के बाद से किसी भी बड़ी टीम ने पाकिस्तान का दौरा नहीं किया है। सीरीज की ट्रॉफी के अनावरण के दौरान फाफ डु प्लेसी ने कहा कि उनका पाकिस्तान दौरा सिर्फ एक सीरीज में खेलना भर नहीं है बल्कि इससे कहीं ज्यादा है जिसमें खेल प्रशंसकों को टॉप अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट देखने को मिलेगा और इससे यहां क्रिकेट की वापसी होगी।

डु प्लेसी ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘ये सिर्फ क्रिकेट के बारे में नहीं है। यह दौरा इससे कहीं ज्यादा बढ़कर है। हम खुश हैं कि इतने लंबे समय बाद पाकिस्तानी क्रिकेटरों को घरेलू मैदान पर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट देखने का मौका मिलेगा। ‘ विश्व एकादश की टीम आज तड़के दुबई से लाहौर पहुंची, जहां पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के चेयरमैन नजम सेठी और दूसरे अधिकारियों ने उनका स्वागत किया।

डु प्लेसी ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘आप हमेशा ऐसी चीजें ढूंढने की कोशिश करते हो जिससे आपको छाप छोड़ने में मदद मिले और ये इसी तरह का मौका दिखता है।’ उन्होंने कहा, ‘बतौर क्रिकेटर, कुछ सालों बाद, मैं पीछे मुड़कर देखूंगा और कहूंगा कि मैंने पाकिस्तान में क्रिकेट की वापसी में अपनी भूमिका अदा की।’ कोच एंडी फ्लावर ने साफ किया कि वर्ल्ड इलेवन की टीम में कुछ मशहूर खिलाड़ी मौजूद हैं और वे पाकिस्तान के क्रिकेट प्रशंसकों के सामने अच्छा प्रदर्शन करना चाहते हैं। उन्होंने कहा, ‘इस दौरे के अंत में हम पाकिस्तान में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी के संकेत का जश्न का हिस्सा होंगे।’ द.अफ्रीका क्रिकेट टीम करेगी पाकिस्तान का दौरा ?

एक दूसरी प्रेस कांफ्रेंस में आईसीसी के अधिकारी जाइल्स क्लार्क ने पाकिस्तानी लोगों को देश में क्रिकेट दोबारा शुरू होने के लिये बधाई दी। उन्होंने कहा, ‘ये महज क्रिकेट नहीं है, बल्कि इससे भी कहीं ज्यादा बढ़कर है।’