© Getty Images (Representational Image)
© Getty Images (Representational Image)

चयन प्रक्रिया के दौरान बार-बार खारिज कर दिए जाने से तंग आकर पाकिस्तान के एक युवा क्रिकेटर ने एक स्थानीय स्टेडियम में प्रथम श्रेणी मैच के दौरान आत्महत्या की कोशिश की। क्रिकेटर ने चयनकर्ताओं पर आरोप लगाया कि वे उसे एक मौका देने के बदले में रिश्वत की मांग कर रहे थे। लाहौर सिटी क्रिकेट असोसिएशन (एलसीसीए) मैदान में चल रहे मैच के दौरान दाएं हाथ के तेज गेंदबाज गुलाम हैदर अब्बास ने मैदान में घुसकर अपने ऊपर पेट्रोल डालने की कोशिश की।

कायदे-आजम ट्रॉफी का मैच देख रहे कुछ लोगों ने तुरंत जाकर अब्बास को रोका और उन्होंने मदद के लिए शोर मचाया। जिसके बाद एलसीसीए के लोगों ने उसे शांत कराया। लाहौर असोसिएशन के पूर्वी जोन से संबंध रखने वाले अब्बास ने कहा कि वह अधिकारियों के इन झूठे वादों से तंग आ चुका है कि उसे लाहौर टीम के लिए प्रथम श्रेणी क्रिकेट मैच खेलने का मौका मिलेगा। अब्बास ने चेताया कि यदि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने उसकी अर्जी नहीं सुनी तो वह गद्दाफी स्टेडियम के मुख्य द्वार पर आत्महत्या कर लेगा। [ये भी पढ़ें: टेस्ट क्रिकेट में अजहर अली ने पूरे किए अपने 5,000 रन]

उसने कहा कि यदि वह खुदकुशी कर लेता है तो एलसीसीए के प्रमुख को इसका जिम्मेदार माना जाना चाहिए, क्योंकि वे प्रतिभा के आधार पर खिलाड़ियों का चयन नहीं कर रहे।