पार्थिव पटेल  © AFP
पार्थिव पटेल © AFP

भले ही ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले दो टेस्ट मैचों के लिए पार्थिव पटेल को टीम इंडिया में जगह न दी गई हो। लेकिन विजय हजारे ट्रॉफी में वह कमाल कर रहे हैं और अपने बल्ले से रनों का अंबार लगा रहे हैं। पटेल ने अभी 3 मार्च को आंध्रप्रदेश के खिलाफ 104 रनों की ताबड़तोड़ पारी खेली थी। वहीं आज बंगाल के खिलाफ विजय हजारे ट्रॉफी के एक और मैच में 88 रनों की पारी खेलते हुए अपनी टीम की जीत में पार्थिव ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। पार्थिव को इंग्लैंड के खिलाफ दो टेस्ट मैचों में बल्लेबाजी करने का मौका मिला था और उन्होंने 67* और 71 रनों की महत्वपूर्ण पारी खेली थीं। लेकिन जब ऑस्ट्रेलिया दौरे की बारी आई तो टीम इंडिया के चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने ये साफ कर दिया कि विकेटकीपर के लिए उनकी पहली पसंद रिद्धिमान साहा हैं।

हालांकि साहा ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपनी तीन पारियों में रन बनाने में कामयाब होते नजर नहीं आए हैं। वहीं टीम इंडिया को ओपनिंग जोड़ी को लेकर भी काफी मशक्कत करनी पड़ रही है। चूंकि, इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में पार्थिव ने एक अच्छे ओपनिंग बल्लेबाज की भूमिका निभाई थी। इस तरह वह टीम इंडिया की परेशानी दूर कर सकते हैं। बैंगलुरू टेस्ट के बाद सीरीज के अंतिम दो टेस्ट मैचों के लिए टीम इंडिया की घोषणा की जानी है। ऐसे में ये देखना दिलचस्प होगा कि चयनकर्ता पार्थिव पटेल को उनकी अच्छी फॉर्म का इनाम देते हैं कि नहीं। भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया, दूसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन के लाइव ब्लॉग को पढ़ने के लिए क्लिक करें

गुजरात और बंगाल के बीच खेले गए इस मैच में बंगाल ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवरों में 168 रन बनाए। जवाब में गुजरात ने पार्थिव पटेल के 88 रनों की बदौलत बंगाल को सात विकेट से हरा दिया। बंगाल ने ये मैच 28 ओवरों में जीत लिया।