भारत में तेजी से बढ़ रहे कोविड मामलों के बीच ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट कप्तान पैट कमिंस (Pat Cummins) ने भारतीयों से कहा है कि वो कोविड-19 से लड़ने के लिए अपने प्रयासों को दोगुना करें. कमिंस ऑस्ट्रेलिया में यूनिसेफ के राजदूत हैं, महामारी के बारे में संदेश फैलाने में वो सबसे आगे रहे हैं और उन्होंने अक्सर कोविड-19 फ्रंट-लाइन योद्धाओं को देश में महामारी के प्रसार को रोकने के लिए हर संभव प्रयास करने का आह्वान किया है.

कमिंस भारत में स्थिति की गंभीरता को पहचानने वाले आईपीएल में पहले क्रिकेटरों में से थे, जब देश पिछले साल महामारी की दूसरी लहर की चपेट में था.

उन्होंने शुक्रवार को एक बार फिर भारतीयों को उनके कर्तव्य की याद दिलाई, जब उन्होंने पिछले साल एक तस्वीर ट्वीट करते हुए लिखा था कि, “कोविड-19 के कारण भारतीयों को एक बार फिर कोविड का सामना करना पड़ा था, क्योंकि यहां कोविड से संक्रमित लोगों के लिए ऑक्सीजन की कमी हो गई थी.”

मैंने शुक्रवार को यूनिसेफ इंडिया के साथ एक बैठक की है, जहां उन्होंने मेरे साथ कोविड की स्थित को लेकर चर्चा की है. कमिंस ने लिखा, “अनगिनत अग्रिम पंक्ति के नायकों के लिए एक विशेष आभार, जो हर दिन खुद को खतरे में डालते हैं.”

एक साल पहले, भारत वायरस की चपेट में था, 30 अप्रैल 2021 को चार लाख से अधिक नए मामले दर्ज करने वाला पहला देश बन गया था. वास्तव में, किसी भी देश में इतने मामले देखने को नहीं मिले, जितना भारत ने दैनिक औसत आधार पर दर्ज किया.

कमिंस यूनिसेफ के राजदूत रहे हैं और उन्होंने यूनिसेफ इंडिया के साथ मिलकर काम किया है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि परिवार और बच्चे समान रूप से न केवल पूरी तरह से ठीक हो गए हैं, बल्कि आपात स्थिति से पहले, अब और बाद में भी अच्छी तरह से सुरक्षित रहें .