मोहम्मद इरफान © Getty Images
मोहम्मद इरफान © Getty Images

पाकिस्तान के तेज गेंदबाज मोहम्मद इरफान को पाकिस्तान सुपर लीग 2017 में स्पॉट फिक्सिंग के आरोप में अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया गया है। मोहम्मद इरफान को पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने खेल के तीनों प्रारूपों से अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया है। सोमवार को मोहम्मद इरफान ने एसीयू के सामने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बयान में कहा कि टूर्नामेंट के दौरान उनसे सटोरियों ने संपर्क किया था और उन्होंने मुझे 4-5 ऑफर देने की बात की थी। हाल ही में मोहम्मद इरफान के पिता का देहांत हो गया था और उन्होंने कहा कि वह काफी परेशान थे। पीसीबी ने कराची किंग्स के शहजैब हसन के साथ मोहम्मद इरफान को जांच के लिए दुबई बुलाया था। हालांकि दोनों ही खिलाड़ियों को पीसीबी ने टूर्नामेंट के बचे हुए मैच खेलने की इजाजत दे दी थी। ये भी पढ़ें: ऑस्ट्रेलियाई टीम ने रांची की पिच का निरीक्षण किया

पीसीबी के प्रवक्ता ने कहा, ”इरफान पर आचार संहिता के नियम 2.4.4 के उल्लंघन का आरोप है। साथ ही इरफान को इसके जवाब के लिए 14 दिन का समय दिया गया है।” पीसीबी ने बयान में कहा, ‘‘पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड संभावित भ्रष्टाचार गतिविधियों की अपनी जांच में आगे बढ़ रहा है और पीसीबी भ्रष्टाचार रोधी संहिता के अंतर्गत इरफान को आरोप संबंधित नोटिस भेजा गया। ’’ इसके अनुसार, ‘‘इरफान को संहिता की धारा 2.4.4 के दो उल्लघंनों के लिए आरोपी बनाया गया है और उसके पास इस नोटिस का जवाब देने के लिये 14 दिन हैं। ’’ बोर्ड ने कहा, ‘‘उसे तुरंत प्रभाव क्रिकेट के सभी प्रारूपों में भाग लेने से अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया गया है। ’’ वह भ्रष्टाचार रोधी संहिता के अंतर्गत निलंबित होने वाले तीसरे पाकिस्तानी खिलाड़ी है। पीसीबी ने शार्जील खान और खालिद लतीफ को पीएसएल के दूसरे दिन दुबई से वापस भेजने का फैसला किया था। उन्हें भी पिछले महीने भ्रष्टाचार रोधी नियमों के अनुसार अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया गया था।

इरफान ने पीसीबी की भ्रष्टाचार रोधी यूनिट के सामने माना कि उन्हें स्पॉट फिक्सिंग का ऑफर मिला था। लेकिन इस बात से साफ इनकार किया कि उन्होंने कुछ गलत किया है। उन्होंने कहा, ‘पहले मेरे पिता की मौत पिछले साल सितंबर में हो गई, उसके बाद जनवरी में मेरी मां का लंबी बीमारी के बाद इंतकाल हो गया। मैं इनकी मौत के बाद गहरे दबाव में था। इसलिए मैं स्पॉट फिक्सिंग के ऑफर की बात सामने नहीं ला पाया।’ वेस्टइंडीज दौरे से पहले राष्ट्रीय कैंप में भी इरफान को इससे दूर रखा गया। पीसीबी ने एक सप्ताह के इस कैंप में 31 खिलाड़ियों की सूची जारी की, जिसमें इस खिलाड़ी का नाम नहीं है। इससे पहले शरजील खान और खालिद लतीफ को भी पीसीबी ने नियमों के उल्लंघन के मामले में निलंबित कर दिया था। अगर दोनों खिलाड़ी दोषी साबित हो जाते हैं तो, दोनों पर आजीवन प्रतिबंध लगाया जा सकता है।