PCB terminates Multan Sultans’ franchise agreement due to failure of payment
Shoaib Malik © AFP

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने समय पर भुगतान ना होने के चलते शॉन प्रॉपर्टी ब्रोकर एलएलसी से पाकिस्तान सुपर लीग की फ्रेंचाइजी मुल्तान सुल्तान का अधिकार छीन लिया है। दुबई स्थित शॉन ग्रुप ने पिछले साल 5.2 मिलियन प्रति साल कीमत पर इस फ्रेंचाइजी को खरीदा था। गौरतलब है कि पीएसएल के चौथे सीजन के ड्रॉफ्ट के 9 दिन पहले ही बोर्ड ने ये फैसला लिया।

मुल्तान सुल्तान को अब ड्रॉफ्ट के दौरान ‘छठीं टीम’ के नाम से बुलाया जाएगा, जब तक कोई नया मालिक अधिकार नहीं खरीद लेता। पीसीबी सार्वजनिक निविदा प्रक्रिया के जरिए टीम के लिए नई बोलियां लगवाएगी। जिसके बाद नए मालिक ही फ्रेंचाइजी का शहर और नाम तय करेंगे। पीसीबी ने आश्वासन दिया है कि फ्रेंचाइजी के विघटन से पीएसएल के चौथे सीजन पर कोई असर नहीं पड़ेगा। बता दें कि चौथा सीजन अगले साल 14 फरवरी से शुरू होगा।

पीसीबी प्रमुख एहसान मनी ने अपने बयान में कहा, “हालांकि ये घटना दुर्भाग्यपूर्ण है लेकिन हमें पीएसएल के हित के लिए अपनी जिम्मेदारी निभानी होगी। हम चाहते थे कि शॉन ग्रुप भविष्य में हमारे साथ जुड़ा रहता। मैं अपने साथियों, फ्रेंचाइजी, स्पॉन्सर्स, खिलाड़ियों, कोच और फैंस को ये भरोसा दिलाना चाहता हूं कि पीएसएल तय योजना के हिसाब से ही आयोजित होगा। इस्लामाबाद में होने वाले ड्रॉफ्ट की तैयारियों जोरों से चल रही हैं। पीएसएल का 2019 सीजन सभी के लिए यादगार होगा क्योंकि प्लेऑफ और फाइनल के कुल आठ मैच पाकिस्तान में खेले जाएंगे।”