PCB to impose life ban on Khalid Latif for spot fixing
खालिद लतीफ © Getty Images (File Photo)

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने स्पॉट फिक्सिंग मामले में दोषी करार दिये गये क्रिकेटर खालिद लतीफ पर आजीवन बैन लगाने के लिये याचिका दायर की है। लतीफ पर फिलहाल पांच साल का प्रतिबंध और दस लाख रुपये का जुर्माना लगा है। पीसीबी के कानूनी सलाहकार तफज्जुल रिजवी ने कहा कि उन्होंने स्वतंत्र निर्णायक के माध्यम से बैन लगाने की याचिका दाखिल की है।

दक्षिण अफ्रीका, बांग्लादेश टीमें करेंगी पाकिस्तान का दौरा!
दक्षिण अफ्रीका, बांग्लादेश टीमें करेंगी पाकिस्तान का दौरा!

उन्होंने कहा, ‘‘ हम लतीफ पर पांच साल के प्रतिबंध और जुर्माने की रकम से संतुष्ट नहीं है। हमारी नीति साफ है कि हम भ्रष्टाचार करने् वाले खिलाड़ियों को बर्दाश्त नहीं करेंगे। हम नहीं चाहते की भ्रष्टाचार रोधी आचार संहिता के तहत दोषी पाए गये खिलाड़ी को फिर से खेलने का मौका मिले। हम दूसरों के लिये उदाहरण पेश करना चाहते है।’’ लतीफ और बल्लेबाज शारजील खान को तीन सदस्यीय भ्रष्टाचार रोधी समिति ने स्पॉट फिक्सिंग और आचार संहिता तोड़ने के तहत मैच फिक्सिंग का दोषी पाया गया हो। फरवरी में हुए बैठक में एक बुकी के साथ दोनों की मुलाकात की पुष्टि होने के बाद दोनों खिलाड़ियों को निलंबित तक दुबई से वापस भेज दिया गया था।

कोर्ट ने शरजील पर पांच साल का बैन लगाया, उसकी आधी सजा माफ की और कोई जुर्माना नहीं लगाया। लेकिन लतीफ का केस अलग था। उनके प्रति कोर्ट ने कोई संवेदनशीलता नहीं दिखाई। कोर्ट ने शरजील और लतीफ को पीसीबी द्वारा उनपर लगे सभी आरोपों के लिए दोषी पाया। लतीफ पर अपने साथी खिलाड़ी को स्पॉट फिक्सिंग में शामिल करने का अतिरिक्त चार्ज लगाया गया है।

शरजील ने अपने बैन के खिलाफ केस भी दायर कर दिया है लेकिन लतीफ की तरफ से ऐसी कोई खबर नहीं आई है। हालांकि लतीफ के वकील केस की शुरुआत से ही ये कहते आ रहे हैं कि उनके साथ भेदभाव किया जा रहा है और निष्पक्ष सुनवाई नहीं हो रही है। पाकिस्तान क्रिकेट से इतिहास में केवल सलीम मलिक को साल 2000 में फिक्सिंग के चलते आजीवन बैन किया गया था।