Picking Jofra Archer for World Cup can destabilise England’s ODI squad feard David Willey
David Willey © Getty Images

इंग्लिश ऑलराउंडर डेविड विली का मानना है कि विश्व कप से पहले जोफ्रा आर्चर को टीम में शामिल करना वनडे स्क्वाड के संतुलन को बिगाड़ सकता है। विली का कहना है कि पिछले कुछ सालों से एक स्क्वाड के साथ लगातार मैच खेलकर इंग्लैंड वनडे फॉर्मेट में नंबर एक पर पहुंचा है और ऐसे में विश्व कप जैसे टूर्नामेंट से पहले स्क्वाड में बदलाव नकारात्मक साबित हो सकता है।

ईएसपीएन क्रिकइंफो को दिए बयान में विली ने कहा, “ये कप्तान, कोच और चयनकर्ताओं के लिए एक दिलचस्प दुविधा है। ये खिलाड़ियों का एक ऐसा समूह है जो तीन या चार साल से एक साथ हैं जिसने हमें नंबर 1 पर पहुंचाया है। और इसका एक कारण है। क्या किसी को अचानक से शामिल कर लेना चाहिए, सिर्फ इस वजह से कि वो खेलने के लिए उपलब्ध हैं। मुझे नहीं पता कि ये सही है या नहीं।”

ये भी पढ़ें: ऑस्ट्रेलिया के लिए विश्व कप खेलना चाहते हैं नाथन लियोन

इंग्लैंड टीम के कोच ट्रेवर बेलिस, कप्तान इयोन मोर्गन और सीनियर खिलाड़ी जो रूट जोफ्रा की तारीफ कर चुके हैं, हालांकि विली ने माना कि उन्होंने जोफ्रा का खेल करीब से नहीं देखा है लेकिन उन्होंने माना कि इस खिलाड़ी से बाकी गेंदबाजों को खतरा है। आर्चर के बारे में इस इंग्लिश ऑलराउंडर ने कहा, “मैं जोफ्रा को अच्छे से नहीं जानता हूं। ईमानदारी से कहूं तो, मैं ये नहीं बता सकता कि वो सीमित ओवर फॉर्मेट क्रिकेट में कितना अच्छा है। लेकिन मुश्किल फैसला पेशेवर क्रिकेट का हिस्सा है। आपको इन चीजों को स्वीकार करना ही होगा और केवल एक ही रास्ता है ये निश्चित करने का कि आप (टीम से बाहर) नहीं हो, वो है मैदान पर प्रदर्शन दिखाकर।”

ये भी पढ़ें: रांची वनडे में मिलिट्री कैप में नजर आई टीम इंडिया, धोनी ने दी कैप

इंग्लैंड के तेज गेंदबाज मार्क वुड भी ये बयान दे चुके हैं कि जोफ्रा आर्चर के वनडे टीम में शामिल होने की संभावना से बाकी गेंदबाजों के बीच स्क्वाड से बाहर होने का डर है। विली ने भी वुड के शब्दों को दोहराया।

उन्होंने कहा, “मैं कल्पना कर रहा हूं कि ड्रेसिंग रूम में बैठा हर गेंदबाज यही करने की कोशिश कर रहा होगा, ये निश्चित करने के लिए कि वो टीम से बाहर ना हो। मुझे लगता है कि पिछले सीजन मैंने इंग्लिश हालातों में अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन क्या पता। टीम में जगह के लिए काफी प्रतिद्वंदिता है इसलिए आप नहीं जानते कि वो टीम और गेंदबाजी अटैक में संतुलन के लिए क्या करने हैं। ”