Picking Wicket on First World Cup Ball is Truly Priceless: Vijay Shankar
Vijay shankar vs Pakistan @IANS

भारतीय ऑलराउंडर विजय शंकर ने विश्व कप के अपने पहले मैच में पाकिस्तान के दो विकेट चटकाकर लोगों का ध्यान खींचा। तमिलनाडु के इस खिलाड़ी को भरोसा है कि वह भारत के अभियान में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं।

शंकर ने कहा कि छह महीने पहले अगर कोई उनसे कहता कि विश्व कप में भारत की योजना में उनकी गेंदबाजी अहम होगी तो उन्हें हैरानी नहीं होती। इस मध्यम गति के गेंदबाज ने सलामी बल्लेबाज इमाम उल हक और विरोधी कप्तान सरफराज अहमद के विकेट चटकाए। शंकर ने ‘मिक्सड जोन’ में मीडिया से बात करते हुए कहा, ‘‘मुझे पता था कि मैं अच्छी बल्लेबाजी कर रहा हूं लेकिन मेरी गेंदबाजी मुझे उपयोगी बनाती है।’’

पढ़ें: भारत की पाकिस्तान पर धमाकेदार जीत, 89 रन से हराया

पैर की मांसपेशियों में खिंचाव के कारण भुवनेश्वर कुमार के बाहर होने पर शंकर ने विश्व कप में अपनी पहली ही गेंद पर विकेट हासिल किया। उन्होंने 5.4 ओवर में 22 रन देकर दो विकेट चटकाए।

शंकर ने कहा, ‘‘मुझे खेल के सभी विभागों को सुधार करने रहने की जरूरत है और मैं चीजों को इसी तरह देखता हूं जिससे कि जब स्थिति आए तो मैं इसका सामना करने को तैयार रहूं। मेरा ध्यान हमेशा अपनी तैयारी पर होता है।’’

पढ़ें:  पाकिस्तान टीम के पास नई सोच नहीं थी: सचिन तेंदुलकर

शंकर को चौथे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए चुना गया था लेकिन शीर्ष तीन बल्लेबाजों के अच्छा प्रदर्शन करने पर टीम प्रबंधन के हार्दिक पंड्या को ऊपर भेजने की उम्मीद है और ऐेसे में शंकर छठे या सातवें नंबर पर भी बल्लेबाजी के लिए तैयार हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘ऑस्ट्रेलिया सीरीज की कुछ शुरुआती पारियों में मैं छठे या सातवें नंबर पर खेला था। जब आप देश के लिए खेल रहे हो तो विभिन्न हालात से सामंजस्य बैठाने के लिए तैयार रहना चाहिए।’’

शंकर ने हालांकि कहा कि पहली ही गेंद पर विकेट हासिल करना सुखद आश्चर्य है। उन्होंने कहा, ‘‘यह मेरे लिए हैरानी भरा है क्योंकि ऐसा बेहद कम होता है कि कोई चोटिल हो जाए और मैं विकल्प के तौर पर आऊं। पहली गेंद पर विकेट हासिल करना मेरे लिए विशेष चीज है।’’