PIL filed in Delhi High Court to stop players’ auction in Indian Premier League
Mumbai Indians iwth IPL trophy (File Photo) @ IANS

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में खिलाड़ियों की नीलामी को चुनौती देते हुए इसे रोकने को लेकर दिल्ली उच्च न्यायालय में एक जनहित याचिका दायर की गई है। मुख्य न्यायाधीश राजेंद्र मेनन ने कहा कि इस मामले पर सुनवाई 26 जुलाई को होगी।

पढ़ें:- ‘विश्‍व कप में हार्दिक अगर मैन ऑफ द सीरीज बने तो हैरानी नहीं होगी’

यह जनहित याचिका सामाजिक कार्यकर्ता सुधीर शर्मा द्वारा दायर की गई है, जिन्होंने आरोप लगाया है कि लीग में खिलाड़ियों की बोली लगाना संवैधानिक और वैधानिक अधिकारों का उल्लंघन है।

पढ़ें:- ‘हालात के अनुरूप ढलने के लिए गेंदबाजी मशीन का इस्तेमाल करेंगे’

शर्मा ने अपनी याचिका में सरकार से ‘अंतरराष्ट्रीय मानव नीलामी’ से संबंधित मामले को देखने के लिए निर्देश देने की मांग की है। उन्होंने कहा कि नीलामी के माध्यम से मानव बोली लगाने और बेचने के खतरे को नियंत्रित करने, प्रतिबंध लगाने, रोकने और रोकने में सरकार विफल रही है।

याचिका में दोषी व्यक्तियों के खिलाफ जांच और कार्रवाई के निर्देश देने की भी मांग की गई है।