Playing in all three format after comeback from spot fixing row was big mistake, says Mohammad Aamir
Mohammad Aamir @ Twitter

पाकिस्तान क्रिकेट टीम (Pakistan Cricket Team) के अनुभवी तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर (Mohammad Amir) का मानना है कि 2010 स्पॉट फिक्सिंग (Spot Fixing) के बाद फिर से राष्ट्रीय टीम में वापसी करने के बाद तीनों प्रारुपों में खेलकर उन्होंने बहुत बड़ी गलती कर दी।

स्पॉट फिक्सिंग के कारण पांच साल का प्रतिबंध झेलने के बाद आमिर ने 2015 में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी की थी और 2016 में वह टेस्ट क्रिकेट में लौटे थे। उन्होंने कहा कि ऐसा करना उनकी सबसे बड़ी गलती थी और उनके शरीर ने इसकी कीमत चुकाई है।

डैरेल हार्पर ने किया सचिन का अपमान, बोले- तेन ‘डकलर’ को 1999 पर आउट देने पर है गर्व

आमिर अपने दूसरे बच्चे के जन्म के कारण शुरूआत में इंग्लैंड दौरे से हट गए थे। लेकिन तेज गेंदबाज हैरिस रउफ के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद आमिर को टीम में बुलाया गया है।

आमिर ने पूर्व क्रिकेटर अतीक उज जमान के साथ यूट्यूब चैनल पर कहा, ” राष्ट्रीय टीम में वापसी करने के बाद तीनों प्रारुपों में खेलकर मैंन बहुत बड़ी गलती की थी। मैं भविष्य के क्रिकेटरों को ऐसी गलती न करने की सलाह दूंगा।”

निर्णयक मुकाबले से पहले इंग्लिश टीम को मिली मजबूती, जोफ्रा आर्चर होंगे स्‍क्‍वाड का हिस्‍सा

“हर किसी को अपनी सीमओं की जानकारी होनी चाहिए और वापसी के बाद केवल एक या दो प्रारुप में ही खेलना चाहिए। अगर वे मानते हैं कि वे ऐसा कर सकते हैं तो भी उन्हें तीसरे प्रारुप में खेलना चाहिए।”

आमिर ने सीमित ओवरों के क्रिकेट पर ध्यान देने के लिए 2018 में टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। उन्होंने कहा कि उनके इस फैसले से उनके करियर को पांच-छह साल आगे बढ़ाने में मदद मिलेगी।