नरेंद्र मोदी-युवराज सिंह © Getty Images
नरेंद्र मोदी-युवराज सिंह © Getty Images

टीम इंडिया के स्टार बल्लेबाज युवराज सिंह ने केवल मैदान के अंदर विपक्षी गेंदबाजों को ही नहीं हराया बल्कि मैदान के बाहर कैंसर के खिलाफ लंबी जंग जीती है। कैंसर से उबरने के बाद युवराज ने युवीकैन नाम की एक चैरिटेबल संस्था शुरू की है जो लोगों के बीच कैंसर के प्रति जागरुकता फैलाने का काम करती है। युवराज अक्सर कैंसर पीड़ित बच्चों से मिलते हैं और उनके साथ समय बिताते हैं। युवी के कई साथी खिलाड़ी और दूसरी बड़ी हस्तियां भी इस संस्था से जुड़े हैं। हाल ही युवराज ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपने इस नेक काम में सहयोग देने को लेकर एक पत्र भेजा था। पीएम मोदी ने जवाब में युवराज को पत्र भेजा।

A post shared by Yuvraj Singh (@yuvisofficial) on

इस पत्र में पीएम ने दूसरों की भलाई के लिए काम करने पर युवराज की तारीफ की। साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि खुद कैंसर से जंग जीत चुके युवराज लाखों लोगों के लिए प्रेरणा है। युवराज ने इस पत्र की फोटो अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर शेयर की। फोटो के साथ युवराज ने लिखा, “युवीकैन से जुड़े सभी लोगों के लिए प्रधानमंत्री जी से इस तरह का प्रेरणादायक पत्र पाना सम्मान की बात है। युवीकैन में हम मानते हैं कि सभी एक साथ मिलकर दुनिया में बदलाव ला सकते हैं। इससे फर्क नहीं पड़ता कि आपके पास क्या है, फर्क इससे पड़ता है कि आप उसे कैसे इस्तेमाल करते हैं। किसी और की जिंदगी बेहतर बनाने और दुनिया में बदलाव लाने से बड़ा कोई ईनाम नहीं है।” [ये भी पढ़ें: अंबाती रायडू ने बीच सड़क पर बुजुर्ग से मारपीट की]

युवराज सिंह इन दिनों टीम इंडिया से बाहर चल रहे हैं। श्रीलंका दौरे पर गई वनडे टीम में भी उन्हें जगह नहीं दी गई। हालांकि वह अपनी फिटनेस पर लगातार काम कर रहे हैं।