कोरोना वायरस की वजह से इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) के स्थगित होने से बीसीसीआई के साथ फैंस और खिलाड़ी भी नाखुश हैं लेकिन चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के गेंदबाज दीपक चाहर (Deepak Chahar) इसे सकारात्मक नजरिए से देख रहे हैं। तेज गेंदबाज चाहर का कहना है कि इस टूर्नामेंट के रद्द होने से उन्हें रिकवरी के लिए समय मिल गया है।

उन्होंने स्वीकार किया कि अगर आईपीएल 29 मार्च को शुरू हो गया होता तो वो शुरूआती मैचों में नहीं खेल पाते। इस खिलाड़ी ने कहा, ‘‘अगर आईपीएल सीजन समय पर शुरू हो गया होता तो मैं शुरू के कुछ मैच नहीं खेल पाता। मैं फिर से गेंदबाजी करने के लिये बेताब हूं। अभी मैं फिट रहना चाहता हूं।’’

दरअसल चाहर अपनी बैक इंजरी से उबरने की कोशिश में लगे हैं। चाहर को पीठ में ये चोट पिछले साल दिसंबर में वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे सीरीज के दौरान लगी थी। जिसके कारण वो मार्च के अंत तक क्रिकेट से बाहर हो गए थे।

सीएसके की अधिकारिक वेबसाइट ने चाहर के हवाले से लिखा, ‘‘जब चीजें आपके नियंत्रण में नहीं होती तो आप कुछ नहीं कर सकते। इसलिए मैं उन चीजों पर ध्यान लगाता हूं जो मैं उस दौरान कर सकता हूं। मैं नई चीजें सीखने की कोशिश कर रहा हूं, अपनी फिटनेस पर ध्यान लगाए हूं क्योंकि आप जानते हो कि मैं चोटिल था और वापसी कर रहा था। इसलिए मुझे उबरने के लिए और समय मिल जाएगा।”