प्रनव धनवाड़े Photo courtesy: Cricfit
प्रनव धनवाड़े Photo courtesy: Cricfit

मुंबई के पास एक छोटे से कस्बे कल्याण के रहने वाले युवा क्रिकेटर प्रनव धनवड़े ने मंगलवार को प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में एक पारी में 1000 रन बनाकर इतिहास रच दिया। वह यह कारनामा करने वाले विश्व के पहले बल्लेबाज हैं। धनवड़े ने यह रिकॉर्ड भंडारी कप मैच में केसी गांधी स्कूल की ओर से खेलते हुए आर्या गुरुकुल स्कूल के खिलाफ बनाया। इसके पहले सोमवार को धनवड़े ने इसके पहले पृथ्वी शॉ के एक पारी में बनाए गए 546 रनों के रिकॉर्ड को सोमवार को तोड़ दिया था। पृथ्वी ने यह रिकॉर्ड जाइल्स शील्ड 2014-15 में बनाया था। धनवड़े सोमवार को 652 रनों पर नाबाद थे। यह रन भी एक दिन में बनाया गया सबसे बड़ा व्यक्तिगत स्कोर है। धनवड़े के 1000 रन पूरे होने के बाद केसी गांधी स्कूल ने अपनी पारी 1465 रनों पर घोषित कर दी है। धनवड़े इस दौरान 1,009 रनों पर नाबाद रहे। ये भी पढ़ें:  AEJ Collins: A 13-year old Indian-born who compiled highest score in all forms of cricket

उनके पहले अवयस्क क्रिकेट में सबसे ज्यादा स्कोर का रिकॉर्ड एईजे कोलिंग के नाम पर था जिन्होंने साल 1899 में क्लार्क हाउस और नॉर्थ टाउन के बीच खेले गए मैच में 628 रनों की नाबाद पारी खेली थी। मात्र 199 गेंदों पर पहले दिन 652 रन बनाने वाले धनवड़े ने अंग्रेजी अखबार द हिंदू से बातचीत में बताया, “मैंने शुरू से ही तोबड़तोड़ बल्लेबाजी करने के बारे में नहीं सोचा था। मैं दिन के अंत तक सिर्फ नॉट आउट रहना चाहता था। मैंने अपने स्ट्रोक्स खेलने शुरू किए और यह जानकार मैं बहुत खुश हूं कि मैंने ताबड़तोड़ रन बटोरे।” धनवड़े ने कहा था कि वह मंगलवार को लंच तक बैटिंग करना चाहते हैं। डेक्कन क्रॉनिकल के मुताबिक महाराष्ट्र सरकार ने निर्णय लिया है कि वह धनवड़े की कोचिंग व शिक्षा पर होने वाले पूरे खर्चे को वहन करेगी। धनवाड़े के पिता ऑटो रिक्शा ड्राइवर हैं।