Pranav Dhanawade scores 236 on the 2nd anniversary of his record 1009 runs inning
© CRICLIFE

एक पारी में 1,009 रन बनाकर क्रिकेट जगत में धमाल मचाने वाले प्रणव धनावड़े एक बार फिर सुर्खियों में है। प्रणव ने आज अपनी 1,009 रनों की अपनी धमाकेदार पारी के दो साल पूरे होने के मौके पर एक इंटर कॉलेज मैच में शानदार दोहरा शतक जड़ दिया है। प्रणव ने झुंझुनवाला कॉलेज के लिए खेलते हुए गुरू नानक कॉलेज के खिलाफ मैच में 236 रनों की पारी खेली। इस दौरान प्रणव ने कुल 35 चौके और 3 छक्के लगाए। 1009 रनों की ऐतिहासिक पारी के बाद प्रणव लगातार खराब फॉर्मे से जूझ रह थे, इस दौरान प्रणव ने मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन से मिलने वाली 10,000 रुपए की स्कॉलरशिप को छोड़ने का फैसला किया था।

हिंदुस्तान टाइम्स को दिए इंटरव्यू में प्रणव ने बताया कि पारी की शुरुआत चुनौतीपूर्ण थी लेकिन बाद में रन बनते चले गए। उन्होंने कहा, “विकेट थोड़ा गीला था और शुरूआत में बल्लेबाजी करना मुश्किल था लेकिन जैसे जैसे खेल आगे बढ़ा चीजें आसान होती गई।” ये कोई इत्तेफाक था या किस्मत की प्रणव ने दोहरा शतक आज के दिन ही लगाया, जब उनकी हजार रनों की पारी को पूरे दो साल हो गए हैं। वैसे प्रणव की मानें तो उन्होंने तारीख पर बिल्कुल ध्यान नहीं दिया था। उनका पूरा ध्यान रन बनाने पर ही था।

Live Cricket Score in Hindi, India vs South Africa, 1st Test, Day 4 at Cape Town
Live Cricket Score in Hindi, India vs South Africa, 1st Test, Day 4 at Cape Town

हजार रनों की रिकॉर्डतोड़ पारी खेलने के बाद प्रणव पर काफी दबाव बनने लगा था और फिर खराब फॉर्म की वजह से वो और ज्यादा परेशान हो गए थे। हालांकि उन्होंने माना कि कोच मोबिन शेख और पूर्व रणजी क्रिकेटर सुलक्षण कुलकर्णी ने उनका खेल बेहतर बनाने में काफी मदद की। प्रणव की 236 रनों की पारी की मदद से उनकी टीम ने 459 रनों का स्कोर बनाया। जवाब में यश सिंह के सात विकेट हॉल के सामने गुरू नानक कॉलेज की टीम केवल 60 रन पर सिमट गई।