Photo courtesy: Twitter
Photo courtesy: Twitter

साल 2016 में एक पारी में 1009 रनों की रिकॉर्डतोड़ पारी खेलने वाले मुंबई के बल्लेबाज प्रणव धनावड़े ने क्रिकेट छोड़ दिया है। ये खबर पढ़कर हैरानी होगी, लेकिन ये है बिलकुल सच। खबरों की मानें तो अंडर 16 मैच में पारी में हजार रन ठोकने वाले इस बल्लेबाज ने खराब फॉर्म से परेशान होकर क्रिकेट खेलना बंद कर दिया है। साल 2016 में प्रणव की रिकॉर्डतोड़ पारी के बाद उन्हें मीडिया में काफी कवरेज मिली थी। मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन ने उन्हें हर महीने 10 हजार रु. की स्कॉलरशिप देने का ऐलान भी किया था लेकिन अब इस खिलाड़ी ने बैट भी पकड़ने से इनकार कर दिया है।

प्रणव धनावड़े को क्या हुआ?

हजार रनों की पारी खेलने के बाद प्रणव धनावड़े की फॉर्म खराब हो गई और उन्हें एमसीए ने अंडर 16 टीम से बाहर कर दिया। इसके बाद प्रणव ट्रेनिंग के लिए बेंगलुरू चले गए। प्रणव उसी क्लब में ट्रेनिंग के लिए गए जहां पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ का बेटा ट्रेनिंग करता है। हालांकि प्रणव राहुल द्रविड़ से मुलाकात नहीं कर सके। बेंगलुरू से वापस लौटने के बाद एयर इंडिया और दादर यूनियन ने प्रणव धनावड़े को नेट प्रैक्टिस से रोक दिया जिससे उनके मनोबल पर खासा असर पड़ा। प्रणव के पिता ने भी एमसीए को खत लिख उनकी स्कॉलरशिप रोकने की मांग कर डाली।

स्टुअर्ट ब्रॉड के आउट होने पर 'विवाद', ख्वाजा ने पकड़ा 'अदृश्य' कैच !
स्टुअर्ट ब्रॉड के आउट होने पर 'विवाद', ख्वाजा ने पकड़ा 'अदृश्य' कैच !

प्रणव के कोच मोबिन शेख के मुताबिक वो प्रणव को दोबारा खेलने के लिए प्रेरित करने की कोशिश कर रहे हैं। प्रणव अभी महज 16 साल के हैं और अभी उनके अंदर क्रिकेट बाकी है। शेख के मुताबिक प्रणव का ध्यान मीडिया की ज्यादा कवरेज की वजह से टूट गया। लगातार आलोचना से भी प्रणव की सोच पर खासा असर पड़ा।