Praveen Amre: Rishabh Pant is confused whether to play aggressive cricket or not
Rishab Pant © IANS

भारतीय टीम (Team India) के विकेटकीपर बल्‍लेबाज रिषभ पंत (Rishabh Pant) इन दिनों खराब बल्‍लेबाजी और विकेटकीपिंग में लगातार हो रही गलतियों को लेकर आलोचनाएं झेल रहे हैं। बांग्‍लादेश के खिलाफ (IND vs BAN) टी20 सीरीज के दौरान पंत ने दो पारियों में महज 33 रन बनाए। दिल्‍ली कैपिटल्‍स (Delhi Capitals) के सहायक कोच रहे प्रवीण आमरे (Praveen Amre) का मानना हे कि आईपीएल से मिली सीख उन्‍हें फॉर्म में आने में मदद करेगी।

पढ़ें:- NZ vs ENG: जोनी बेयरस्‍टो ने मैदान में फैलाई अश्‍लीलता, ICC ने दिए कार्रवाई के आदेश

प्रवीण आमरे ने कहा, “आईपीएल 2019 में रिषभ पंत खराब फॉर्म से जूझते हुए ही खेलने के लिए आए थे। दिल्‍ली कैपिटल्‍स के मुख्‍य कोच रिकी पोंटिंग (Ricky Ponting) ने समझा और पंत को अपने लिए जगह बनाने की आजादी दी। हमने प्रयास किया कि वो दबाव में न आए। हमने उसके लिए चीजों को आसान बनाने के मकसद से चीजों को छोटे-छोटे हिस्‍सों में तोड़ने का प्रयास किया।”

आमरे (Praveen Amre) ने कहा, “रिषभ पंत की बल्‍लेबाजी की सबसे महत्‍वपूर्ण चीज उनकी टाइमिंग है। वो विराट कोहली और रोहित शर्मा की तरह ही अच्‍छी टाइमिंग से शॉट लगाने वाला खिलाड़ी है। उसे चीजों को सही करने के लिए ध्‍यान केंद्रित करना होगा। मुझे लगता है कि पंत फिलहाल थोड़ा कंफ्यूज हो गया है। उसे समझ नहीं आ रहा है कि कैसे पारी को आगे बढ़ाए। धैर्य रखकर खेलना है या फिर अपने प्राकृतिक खेल आक्रमकता पर ही फोकस करना है- इन दोनों चीजों को लेकर वो असमंजस की स्थिति में है।”

पढ़ें:- विराट कोहली ने बताया रिटायरमेंट प्‍लान, बोले- क्रिकेट छोड़ने के बाद करूंगा ये काम

प्रवीण आमरे (Praveen Amre) ने कहा, “पिछले आईपीएल सीजन में नौ जीत में से तीन मैचों में रिषभ पंत मैन ऑफ द मैच रहे। अधिकांश बल्‍लेबाज पावर प्‍ले या फिर अंतिम ओवरों में विरोधी टीम को सबसे ज्‍यादा नुकसान पहुंचाते हैं। रिषभ पंत बीच के ओवरों में भी शुरुआती व अंतिम ओवरों की तरह ही खतरनाक होते हैं। यही उनकी खासियत है।”