विजय हजारे टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन के बावजूद विजयी मुंबई टीम के कप्तान पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) को इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए भारतीय स्क्वाड में जगह नहीं मिली थी। हालांकि पूर्व भारतीय दिग्गज वीवीएस लक्ष्मण (VVS Laxman) का कहना है कि शॉ को जल्द ही उनकी मेहनत का ईनाम मिलेगा।

एएनआई में छपी खबर के मुताबिक लक्ष्मण ने कहा, “जिस तरह से पृथ्वी शॉ ने प्रदर्शन किया है, खासकर एक कप्तान के तौर पर उसने मुंबई को विजय हजारे ट्रॉफी जिताई है, मुझे लगता है कि वो वनडे स्क्वाड का हिस्सा बनने का हकदार था लेकिन चयनकर्ताओं ने जिस तरह के चयन किया है, उन्होंने अच्छा प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों की एक लाइन बनाई है। फिलहाल पृथ्वी उस लाइन में पीछे है क्योंकि हमारे पास शुबमन गिल है जिन्होंने हालिया मिले मौकों पर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन किया है।”

लक्ष्मण ने कहा, “इसके अलावा आपके पास केएल राहुल, शिखर धवन और रोहित शर्मा जैसे अनुभवी सलामी बल्लेबाज हैं और आप एक स्क्वाड में तीन या चार सलामी बल्लेबाज ही रख सकते हैं। मुझे यकीन है कि पृथ्वी शॉ को मौका मिलेगा।”

उन्होंने आगे कहा, “जिस चीज ने मुझे सबसे ज्यादा प्रभावित किया वो ये कि उसने किस तरह से अपनी तकनीक पर काम किया। बात केवल प्रदर्शन की नहीं है लेकिन उसकी तकनीकि के साथ भी कुछ परेशानियां थी और उसने विजय हजारे टूर्नामेंट के दौरान उस पर काम किया और निरंतर बना रहा। वो एक मैचविनर है और मुझे यकीन है कि उसे मौका मिलेगा।”

ऑस्ट्रेलिया दौरे पर खेली गई टेस्ट सीरीज में शर्मनाक प्रदर्शन के बाद भारतीय स्क्वाड से बाहर हुए शॉ ने विजय हजारे ट्रॉफी के जरिए वापसी की। उन्होंने मुंबई के लिए खेले 8 मैचों में 827 रन बनाए और विजय हजारे ट्रॉफी के एक सीजन में 800 से ज्यादा रन बनाने वाले पहले क्रिकेटर बने।