Pune-based cricket museum buys Azhar Ali’s bat to raise funds to fight COVID-19
Azhar Ali

भारत के पुणे स्थित क्रिकेट संग्रहालय ने पाकिस्तान के पूर्व टेस्ट कप्तान अजहर अली का कोविड-19 महामारी के दौरान जरूरतमंदों की मदद के लिए नीलामी में रखा गया एक बल्ला खरीदा है।

अजहर ने इस घातक बीमारी से पीड़ित लोगों के लिए धनराशि जुटाने के मद्देनजर अपनी दो यादगार वस्तुओं को नीलामी में रखा था। इनमें वह बल्ला भी शामिल था जिससे उन्होंने 2016 में वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट मैच में 302 रन बनाए थे। इसके अलावा उन्होंने भारत के खिलाफ 2017 में चैंपियंस ट्रॉफी फाइनल में पहनी गयी जर्सी भी नीलामी में रखी थी।

इस बल्ले और जर्सी पर पाकिस्तान क्रिकेट टीम के सभी सदस्यों के हस्ताक्षर थे।

सोशल मीडिया पर दी जानकारी 

अजहर ने सोशल मीडिया पर घोषणा की कि उन्होंने बल्ले और जर्सी में से प्रत्येक के लिए दस लाख रुपये का आधार मूल्य रखा था और वह इनसे 22 लाख रुपये जुटाने में सफल रहे।

उन्होंने पुष्टि की कि पुणे स्थित ‘ब्लेड्स ऑफ ग्लोरी क्रिकेट म्यूजियम’ ने दस लाख रुपये की सबसे बड़ी बोली लगाकर बल्ला खरीदा।

नीलामी के लिए रखी गई उनकी शर्ट में भी लोगों ने काफी दिलचस्पी दिखाई तथा कैलिफोर्निया में रहने वाले एक पाकिस्तानी काश विलानी ने इसके लिए 11 लाख रुपये की सबसे बड़ी बोली लगाई।

जमाल खान ने 1 लाख का दान दिया 

न्यूजर्सी में रहने वाले एक अन्य पाकिस्तानी जमाल खान ने एक लाख रुपये का दान दिया।

अजहर ने नीलामी शुरू करने के बाद ट्वीट किया था, ‘मैंने वर्तमान संकट से जूझ रहे लोगों की मदद के लिए अपनी दो खास चीजों को नीलामी के लिये रखा है और उनका आधार मूल्य दस लाख पाकिस्तानी रुपया रखा है। नीलामी शुरू होती है और यह पांच मई 2020 को रात 11 बजकर 59 मिनट पर समाप्त हो जाएगी।’

अजहर ने 2016 में यूएई में वेस्टइंडीज के खिलाफ नाबाद 302 रन बनाए थे। वह दिन-रात्रि टेस्ट मैच में तिहरा शतक जड़ने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज बने थे।

उन्होंने ट्विटर पर वीडियो पोस्ट करके कहा था, ‘यह शर्ट 2017 की चैंपियंस ट्रॉफी की है जिसे हमने जीता था। इस पर उस टीम के सभी साथियों के हस्ताक्षर हैं।’