Punishing Hardik Pandya, KL Rahul is right, but we should show some empathy towards them: VVS Laxman
Hardik Pandya, KL Rahul @ Twitter

भारती टीम के पूर्व बल्‍लेबाज वीवीएस लक्ष्‍मण का मानना है कि महिलाओं के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्‍पणी करने के मामले में अंतरिम प्रतिबंध झेल रहे बल्‍लेबाज हार्दिक पांड्या और केएल राहुल के प्रति हमें सहानुभूति दिखानी चाहिए। करियर में विफल होने की स्थिति को संभालना आसान है, लेकिन सफलता को सभाल पाना इतना आसान नहीं होता।

एक कार्यक्रम के दौरान बतौर स्‍पीकर अपनी बात रखते हुए लक्ष्‍मण ने कहा, “आप सभी अनुभवों से सीखते हैं। भारत में क्रिकेटर होना काफी मुश्किल है। हम में से कितने लोगों को महज 18 साल की उम्र में पहचान मिली थी। केएल राहुल और हार्दिक पांड्या से गलती हुई है। उन्‍हें अपनी गलती का अहसास भी है। सवाल ये है कि हमने और बोर्ड ने इस घटना से क्‍या सीखा है। ये केवल उन्‍हें दिशा देने का सवाल है। उन्‍हें ये सिखाना होगा कि किस तरह से व्‍यवहार किया जाता है। बीसीसीआई और मैनेजमेंट को इसकी जिम्‍मेदारी उठानी होगी।”

पढ़ें:-  VIDEO: रविंद्र जडेजा का शानदार थ्रो, ख्‍वाजा को लौटना पड़ा पवेलियन

बीसीसीआई के नोटिस के जवाब में हार्दिक और राहुल ने बिना शर्त माफी मांग ली है।  लक्ष्‍मण ने कहा, “खिलाड़ियों को इस बात का अहसान होना चाहिए कि लोग उन्‍हें देख रहे हैं। वो उनसे बहुत कुछ सीख रहे हैं। आपको सही तरीके से बर्ताव करना ही होगा।” मैंने करियर के पहले चार साल के दौरान बहुत कुछ सीखा। एक खिलाड़ी के लिए कई चुनौतियां होती हैं। करियर में विफल होने की स्थिति को संभालना आसान है, लेकिन सफलता को सभाल पाना इतना आसान नहीं होता। ऐसे में मनोवैज्ञानिक की भूमिका काफी अहम होती है। भारत में मनोवैज्ञानिक को लाने का कल्‍चर ज्‍यादा प्रचलित नहीं हैं। विदेशों में वो काफी अच्‍छा काम कर रहे हैं।”

पढ़ें:- अभूतपूर्व बल्लेबाज हैं रोहित शर्मा: सौरव गांगुली

लक्ष्‍मण ने कहा, “हार्दिक और राहुल ने जो भी किया वो गलत है। उनको सजा देने का निर्णय सही है। हमें उनकी तरफ थोड़ी दया की दृष्टि रखनी चाहिए। वो काफी युवा खिलाड़ी हैं। एक युवा खिलाड़ी के लिए परिपक्‍व होना बड़ी चुनौती होता है।”

आईपीएल की तारीफ करते हुए वीवीएस लक्ष्‍मण ने कहा, “पृथ्‍वी शॉ और शुभमन गिल जैसे खिलाड़ियों की प्रतिभा को निखारने में आईपीएल ने अच्‍छी भूमिका निभाई है। उन्‍हें 19-20 साल की उम्र में करियर में अच्‍छी शुरुआत मिल गई है।”