कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में आगे आईं विश्व चैंपियन भारतीय महिला बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु (PV Sindhu) ने 10 लाख रुपये दान देने का फैसला किया है। सिंधु ने ये राशि पांच-पांच लाख रुपये के रूप में दो राज्यों आंध्र प्रदेश और तेलंगाना मुख्यमंत्री राहत कोष में दान दिया है।

सिंधु ने कहा, “कोरोनावायरस से लड़ने के लिए मैं तेलंगाना और आंध्र प्रदेश राज्य के मुख्यमंत्री राहत कोष में पांच-पांच लाख रुपये दान देती हूं।”

इससे पहले, पहलवान बजरंग पुनिया अपने छह महीने की सैलरी, पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने 50 लाख रुपये और सानिया मिर्जा ने भोजन तथा जरूरी की सामान दान देने का फैसला किया।

पाकिस्तान क्रिकेटरों ने किया 50 लाख का दान

पाकिस्तानी क्रिकेटरों ने कोरोनावायरस के खिलाफ जंग में सरकार की मदद करने के लिए 50 लाख पाकिस्तानी रुपये दान करने का फैसला किया है। यह दान राष्ट्रीय सरकार के आपातकालीन कोष में दिया जाएगा। क्रिकेटरों के अलावा पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के स्टाफ भी इसमें अपनी मदद करेंगे। बोर्ड में कर्मचारी से वरिष्ठ प्रबंधक स्तर तक के कर्मचारी एक दिन का वेतन जबकि महाप्रबंधक या उच्च पद पर कार्यरत लोग अपने दो दिन का वेतन सरकार को देंगे।

पीसीबी की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि पीसीबी इन सभी फंडों को इकट्ठा करेगा और इसे सरकार के कोरोनावायरस फंड में जमा करेगा। पीसीबी के अध्यक्ष एहसान मनी ने कहा ” इस मुश्किल समय में पीसीबी हमेशा पाकिस्तान के लोगों के साथ खड़ा है। यह सबसे मुश्किल समय है और हमारे लोग, सरकार और स्वास्थ्य कर्मी इसका सामना करना कर रहे हैं। पीसीबी कोरोना के खिलाफ इस लड़ाई में सरकार को अपना सहयोग करना चाहता है।”

बांग्लादेशी खिलाड़ियों ने दी आधी सैलरी

बांग्लादेश के क्रिकेटरों ने देश में कोरोनावायरस महामारी से लड़ने के लिए सरकार को अपनी आधी सैलरी दान करने का फैसला किया है। ढाका ट्ब्यिून की रिपोर्ट के अनुसार, देश के 27 खिलाड़ी अपनी आधी सैलरी दान कर रहे हैं। इन 27 खिलाड़ियों में से 17 खिलाड़ी बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) की केंद्रीय अनुबंध सूची में शामिल हैं जबकि बाकी 10 खिलाड़ी भी राष्ट्रीय टीम से खेल चुके हैं।

बयान के अनुसार, ” हमारा मानना है कि लोगों को जागरूक करने के अलावा हमारे पास और भी करने के लिए बहुत कुछ है। कोरोना से लड़ने के लिए देश के कुल 27 क्रिकेटर अपनी आधी सैलरी दान कर रहे हैं। टैक्स हटाने के बाद ये रकम करीब 25 लाख टका होगी। हो सकता है यह फंड काफी ना हो कोरोनावायरस के खिलाफ जंग के लिए, लेकिन अगर हम सब मिलकर अपने हिसाब से दान करेंगे, तो यह कोरोनावायरस के खिलाफ जंग में अहम साबित हो सकता है।”