Racial abuse is absolutely unacceptable: Virat Kohli, Sachin Tendulkar condemns SCG incident
विराट कोहली (Getty images)

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी टेस्ट के तीसरे दिन भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज के खिलाफ हुई नस्लीय टिप्पणियों की घटना की टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली और पूर्व दिग्गज सचिन तेंदुलकर ने कड़ी निंदा की है। सीरीज बीच में छोड़ भारत लौटे कप्तान कोहली ने कहा कि नस्लीय भेदभाव किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

वहीं तेंदुलकर ने कहा कि क्रिकेट कभी भेदभाव नहीं करता है और जो लोग इस तरह की घटनाओं में शामिल हैं, उन्हें कभी भी स्पोर्टिग एरेना में जगह नहीं मिलनी चाहिए। सचिन और कोहली ने ट्विटर के जरिए इस मामले पर अपने विचार रखे।

सचिन ने लिखा, “खेल हमें एकजुट करने के लिए है। क्रिकेट कभी भेदभाव नहीं करता। बल्ले और गेंद से कमाल करना किसी व्यक्ति की खास काबिलियत है। इसका नस्ल, रंग, धर्म या फिर राष्ट्रीयता से कोई लेना देना नहीं होता। जो लोग इस तरह की घटनाओं में शामिल हैं, उन्हें कभी भी स्पोर्टिग एरेना में जगह नहीं मिलनी चाहिए।”

वहीं  कोहली ने ट्वीट किया, “नस्लीय गालियां देना स्वीकार नहीं किया जा सकता है, बाउंड्री लाइन पर मुझे भी बहुत ही घटिया बातें सुननी पड़ी हैं, ये बदसलूकी की चरम सीमा है। मैदान पर ये सब होते देखकर दुख होता है, इस घटना पर बिना किसी देरी के और गंभीरता से काम किया जाना चाहिए। दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई से ही काम बनेगा।”

सिडनी टेस्ट के दौरान दर्शकों की ओर से दो बार भारतीय खिलाड़ियों के खिलाफ नस्लीय टिप्पणी की गई। एक घटना शनिवार को हुई थी जिसमें तेज गेंदबाजों सिराज और जसप्रीत बुमराह के खिलाफ कुछ आपत्तिजनक कहा गया था और एक घटना रविवार को हुई जब सिराज के खिलाफ टिप्पणी की गई।

तीसरे दिन सिराज और कप्तान अजिंक्य रहाणे के फील्ड अंपायर से शिकायत करने के बाद पुलिस ने छह लोगों को स्टेडियम के बाहर किया। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने भी मामले की जांच शुरू कर दी है।