Rahul Dravid: Change in the shape of bat will have an impact on the game
राहुल द्रविड़ © Getty Images

पूर्व भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ का कहना है कि बल्ले की मोटाई कम करने को लेकर आईसीसी के नए नियमों का असर खेल पर पड़ेगा। बल्ले और गेंद के बीच संतुलन बनाने की कवायद के तहत आईसीसी ने बल्ले की चौड़ाई 108 मिलीमीटर से अधिक ना रखने का नियम बनाया है। वहीं किनारे पर बल्ले की मोटाई 40 मिलीमीटर और बीच में 67 मिलीमीटर से ज्यादा नहीं होगी।

द्रविड़ ने कहा, ‘‘हां, इसका असर खेल के नतीजों पर पड़ेगा। हालांकि बदलाव काफी बड़े नहीं है क्योंकि कुछ ही खिलाड़ी हैं जो ऐसे बल्लों का इस्तेमाल करते हैं तो नए नियमों के अंदर नहीं आते। यह अच्छा फैसला है।’’ दाएं हाथ के इस पूर्व बल्लेबाज ने ये भी कहा कि बल्ले के आकार के अलावा और भी कई ऐसे चीजें है जो खेल को प्रभावित करती हैं। भारतीय महिला टीम की कप्तान मिताली राज और पूर्व कप्तान झूलन गोस्वामी के सम्मान में आयोजित कार्यक्रम के दौरान द्रविड़ ने कहा, ‘‘पिच और बाउंड्री का आकार भी मायने रखता है।’’

पुणे में न्यूजीलैंड के खिलाफ जीत का अर्धशतक लगा सकती है टीम इंडिया
पुणे में न्यूजीलैंड के खिलाफ जीत का अर्धशतक लगा सकती है टीम इंडिया

यह पूछने पर कि क्या वह भविष्य में भारतीय महिला टीम को कोचिंग देना चाहेंगे, भारत ए और अंडर 19 पुरुष टीम के कोच द्रविड़ ने कहा कि महिला टीम के पास पहले ही सर्वश्रेष्ठ सहयोगी स्टाफ है। महिला आईपीएल टूर्नामेंट के बारे में द्रविड़ ने कहा, ‘‘हां, यह अच्छा विचार है। इससे खिलाड़ियों का बड़ा पूल बनेगा, घरेलू और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को फायदा होगा।’’