© Getty Images
© Getty Images

बीसीसीआई के वरिष्ठ अधिकारी राजीव शुक्ला ने कहा कि बोर्ड अपने सर्वश्रेष्ठ प्रयासों के बावजूद अनिल कुंबले और विराट कोहली के बीच मतभेदों को सुलझाने में नाकाम रहा लेकिन उन्होंने आश्वासन दिया कि नया कोच अगले साल के श्रीलंका दौरे से पहले नियुक्त किया जाएगा। शुक्ला ने आज पत्रकारों से बातचीत में कहा, “बीसीसीआई ने यह मसला सुलझाने के लिये अपनी तरफ से सर्वश्रेष्ठ प्रयास किये। कार्यवाहक सचिव और सीईओ ने कुंबले और कोहली के साथ इस मामले पर विस्तार से चर्चा की। बोर्ड ने सीओए के चेयरमैन विनोद राय से भी इस मामले पर बात की।

उन्होंने कहा, “मसला सुलझाने के लिये काफी प्रयास किये गये, लेकिन आखिर में कोई परिणाम नहीं निकला और कुंबले ने हटने का फैसला किया। कुंबले ने अपने बयान में कहा कि कोहली को उनकी कोचिंग शैली से आपत्ति है और दोनों ज्यादा समय तक साथ काम नहीं कर पाएंगे। शुक्ला ने कहा, “बीसीसीआई कुंबले को भविष्य के लिये शुभकामनाएं देता है। इस बीच बीसीसीआई ने टीम के लिये नया कोच रखने का फैसला किया है। श्रीलंका दौरे से पहले कोच नियुक्त कर लिया जाएगा और यह भारत के लिए सर्वश्रेष्ठ कोच होगा।” [ये भी पढ़ें: चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल से पहले विराट ने दी थी अनिल कुंबले को गाली?]

शुक्ला से जब पूछा गया कि क्या केवल विराट कोहली ने ही कुंबले का विरोध किया, इस पर उन्होंने कहा, ये सब अटकलबाजियां हैं। मैंने पहले ही कहा कि कभी कभार कुछ मतभेद हो जाते हैं। कई बार ऐसा होता है कि आप किसी के साथ अच्छी तरह से नहीं घुलमिल पाते। केवल कप्तान को ही महत्व नहीं दिया गया। हमने हर किसी को महत्व दिया। कई बार मतभेद पैदा हो जाते हैं। वे भी इंसान हैं।”