एम एस धोनी © Getty Images
एम एस धोनी © Getty Images

पाकिस्तान के पूर्व खिलाड़ी और क्रिकेट कमेंटेटर रमीज राजा ने टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और मौजूदा विकेटकीपर एम एस धोनी के ग्रेड ए कॉन्ट्रैक्ट पर सवाल उठाए हैं। रमीज राजा का कहना है कि बीसीसीआई को एम एस धोनी को ग्रेड ए कॉन्ट्रैक्ट नहीं देना चाहिए क्योंकि वो अब टेस्ट क्रिकेट नहीं खेलते हैं। रमीज राजा के मुताबिक क्रिकेट बोर्ड को टेस्ट क्रिकेट का सम्मान करते हुए धोनी से ग्रेड ए कॉन्ट्रैक्ट वापस ले लेना चाहिए। ग्रेड ए कॉन्ट्रैक्ट उन खिलाड़ियों को मिलना चाहिए जो कि टेस्ट क्रिकेट खेल रहे हैं।

रमीज राजा ने कहा, ‘एम एस धोनी टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं लेकिन अब भी उन्हें बीसीसीआई ने ए ग्रेड कॉन्ट्रैक्ट दे रखा है। शाहिद अफरीदी भी टेस्ट क्रिकेट काफी समय पहले छोड़ चुके हैं लेकिन उनके पास अब भी ग्रेड ए कॉन्ट्रैक्ट है।’ इससे पहले सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त कमेटी ऑफ एममिनिस्ट्रेर के सदस्य रामचंद्र गुहा ने इस्तीफा देते हुए धोनी को संन्यास लेने के बाद भी ए ग्रेड का अनुबंध दिए जाने पर सवाल उठाया था। गुहा ने कमेटी प्रमुख विनोद राय को लिखे पत्र में कहा था कि भारतीय क्रिकेट में सुपरस्टार सिस्टम लागू है। गुहा ने लिखा था कि सुपरस्टार सिस्टम ने भारतीय क्रिकेट का कबाड़ा कर दिया है। ये भी पढ़ें: अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट पर मंडराया बड़ा खतरा

वैसे रमीज राजा ने अपनी चिंता जाहिर करते हुए ये भी कहा कि टेस्ट क्रिकेट को सबसे छोटे फॉर्मेट टी-20 के सामने खत्म नहीं होने देना चाहिए। रमीज राजा ने कहा कि एशिया में क्रिकेट टीमों पर काफी दबाव है लेकिन सही योजना बनाई जाए तो टेस्ट क्रिकेट चैंपियनशिप कराई जाए तो इससे फायदा हो सकता है। रमीज राजा ने कहा कि अगर क्रिकेट बोर्ड टेस्ट क्रिकेट के लिए ऐसी योजनाएं नहीं बनाएंगे तो वो टी-20 के मुकाबले पैसा हासिल करने में नाकाम रहेंगे।