टी20 कप्तान हरमनप्रीत कौर और उप कप्तान स्मृति मंधाना के समर्थन के बाद रमेश पोवार ने मंगलवार को एक बार फिर महिला क्रिकेट टीम के कोच पद के लिए आवेदन किया। महिला कोच के रूप में पोवार के विवादास्पद कार्यकाल का अंत 30 नवंबर को हुआ था। चालीस साल के इस पूर्व भारतीय स्पिनर ने पीटीआई को पुष्टि की कि उन्होंने आवेदन किया है।

पोवार ने कहा, ‘‘हां, मैंने आज शाम आवेदन किया क्योंकि स्मृति और हरमनप्रीत ने मेरा समर्थन किया और मैं आवेदन नहीं करके उन्हें निराश नहीं करना चाहता।’’

पढ़ें:-  कोच पोवार पर भड़की मिताली कहा- मुझे अपमानित किया

पोवार के मार्गदर्शन वाली भारतीय टीम को पिछले महीने विश्व टी20 चैंपियनशिप के सेमीफाइनल में इंग्लैंड के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था। पोवार और हरमनप्रीत सहित टीम प्रबंधन ने इस नाकआउट मैच में सीनियर खिलाड़ी मिताली राज को बाहर रखने का फैसला किया था जिस पर काफी विवाद हुआ था।

वेस्टइंडीज से स्वदेश लौटने के बाद मिताली ने पोवार और प्रशासकों की समिति की सदस्य डायना एडुल्जी पर उनके करियर को नुकसान पहुंचाने का प्रयास करने और उनके खिलाफ भेदभाव करने का आरोपल लगाया था। पोवार ने भी मिताली पर आरोप लगाया था कि उन्होंने सलामी बल्लेबाजी के रूप में नहीं खिलाने पर विश्व टी20 टूर्नामेंट के बीच में संन्यास लेने की धमकी दी और टीम में समस्या पैदा की।

पढ़ें:- मिताली राज ने कोच पोवार को दी थी संन्यास लेने की धमकी

इस विवाद के बाद बीसीसीआई ने कोच पद के लिए नए सिरे से आवेदन मंगाने का फैसला किया और इसके लिए अंतिम तिथि 14 दिसंबर तय की गई है। हरमनप्रीत और स्मृति पहले ही कह चुकी हैं कि वे चाहती हैं कि पोवार अपने पद पर बरकरार रहें जबकि मिताली उनकी वापसी के खिलाफ हैं।