कायरॉन पोलार्ड © IANS
कायरॉन पोलार्ड © IANS

ऐसा बहुत ही कम देखने को मिलता है कि क्रीज पर कायरॉन पोलार्ड जैसा धमाकेदार बल्लेबाज हो, ओवर से 10 रन बनाने और वे न बने। लेकिन अगर ऐसा हो जाए तो उस गेंदबाज की कसीदे पढ़े जाने जरूरी हो जाते हैं। ऐसा ही बांग्लादेश प्रीमियर लीग के एक मैच में देखने को मिला है जहां आखिरी ओवर में लोगों की सांसे थम गईं। ढाका डाइनामाइट्स की ओर से खेल रहे कायरॉन पोलार्ड रंगपुर राइडर्स के खिलाफ अपनी टीम को जीत की ओर ले जा हे थे। अब डाइनामाइट्स को 14 गेंदों में 16 रनों की दरकार थी जो कोई बहुत बड़ी बात नहीं थी क्योंकि पोलार्ड जैसा बल्लेबाज जो क्रीज पर था।

18वें ओवर की आखिरी दो गेंदों में 2 रन बने और इस तरह से पोलार्ड की टीम को 12 गेंदों में 13 रनों की दरकार थी। 18वां ओवर लसिथ मलिंगा फेंकने को आए। मलिंगा के ओवर में पोलार्ड को एक ही गेंद खेलने को मिली और इस बात का मलिंगा ने जमकर फायदा उठाया और सामने वाले बल्लेबाज नदीफ को अपने अनुभव के आगे बौना साबित करते हुए कुल 3 रन खर्च किए और आखिरी गेंद पर विकेट भी ले डाला।

आखिरी ओवर में छक्का भी लगा लेकिन नतीजा चौंकाने वाला था: अब पेंच भिड़ गया था। वह इसलिए भी क्योंकि आखिरी ओवर में जीतने के लिए 10 रन बनाने थे। ढाका डाइनामाइट्स को पोलार्ड का सहारा था। ये ओवर थिसारा परेरा लेकर आए। पहली गेंद पर पोलार्ड ने कोई रन नहीं बना पाए, दूसरी गेंद पर पोलार्ड फिर से कोई रन नहीं बना पाए, तीसरी गेंद पर पोलार्ड ने जोरदार छक्का जड़ दिया। इस तरह से मैच में फिर से रोमांच भर गया। क्योंकि अब आखिरी तीन गेंदों में जीतने के लिए 4 रन ही बनाने थे और पोलार्ड छक्का मारने के बाद पूरे शबाब पर नजर आ रहे थे।

अगली गेंद जो फुलटॉस थी उसपर पोलार्ड ने डीप मिडविकेट के क्षेत्र में शॉट लगाया लेकिन उन्होंने सिंगल लेने से फिर से इनकार कर दिया। ये इस ओवर में तीसरा मौका था जब पोलार्ड ने सिंगल लेने से इनकार किया था। पांचवीं गेंद परेरा ने यॉर्कर मार दी और पोलार्ड बोल्ड हो गए। पोलार्ड ने 14 गेंदों में 12 रन बनाए। पोलार्ड के आउट होते ही डाइनामाइट्स टीम के मौके लगभग खत्म हो गए थे।

अब आखिरी गेंद पर उन्हें जीतने के लिए 4 रन की दरकार थी। परेरा की इस गेंद को अबु हैदर नहीं समझ पाए और वो भी बोल्ड हो गए। इस तरह से ढाका डाइनामाइट्स 139 पर ऑलआउट हो गई और 3-रन से मैच हार गई।

इससे पहले रंगपुर राइडर्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 19.5 ओवरों में ऑलआउट होते हुए 142 का स्कोर बनाया था। उनकी तरफ से क्रिस गेल ने 28 गेंदों में 51 रन, 5 चौकों और 4 छक्कों की मदद से और मोहम्मद मिथुन ने 26 गेंदों में 22 रन 1 चौके की मदद से बनाए। शाकिब अल हसन ने 3.5 ओवरों में 16 रन देकर 5 विकेट झटके थे।

जवाब में 143 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी ढाका डाइनामाइट्स 20 ओवरों में 139 न ही बना सकी और मैच 3 रनों से हार गई। एविन लुइस ने 25 गेंदों में 28 रन 3 छक्कों की मदद से बनाए। उनके अलावा जाहरुलम इस्लाम ने 19 गेंदों में 29 रन 4 चौके और 1 छक्के की मदद से बनाए। शाहिद अफरीदी ने 15 गेंदों में 21 रन 1 चौके और 2 छक्कों की मदद से बनाए। लसिथ मलिंगा ने 4 ओवरों में सिर्फ 20 रन खर्च किए।