© IANS
© IANS

इस रणजी सीजन में मुंबई और कर्नाटक के बीच क्वार्टरफाइनल का घमासान लोगों को खासा लुभा रहा है। कई क्रिकेट फैंस इस मैच को लाइव टीवी पर देखने के लिए लालायित थे लेकिन कुछ डीटीएच ऑपरेटर्स के अड़ियल रवैए के कारण मैच को टीवी पर नहीं दिखाया जा रहा है। इस वजह से लाखों प्रशंसकों को मायूस होना पड़ा है। वह इसलिए क्योंकि यह मैच स्टार के नए चैनल स्टार फर्स्ट में प्रसारित किजा रहा है और इस चैनल को चलाने से बहुत से डीटीएच ऑपरेटर्स ने इंकार कर दिया है।

जैसा कि एयरटेल, डिश टीवी, और डीडी फ्रेश डिश ने स्टार फर्स्ट को चलाने के लिए अपनी दिलचस्पी दिखाई है। वहीं टाटा स्काई, विडियोकॉन डी2एच या सन डायरेक्ट ने इस चैनल को प्रसारित करने से साफ इंकार कर दिया है। स्टार फर्स्ट के अलावा, मैच हॉटस्टार.कॉम पर भी आ रहा है लेकिन इस पर मैच देखने के लिए आपको डेढ़े से 2 जीबी डेटा की कुर्बानी देनी होगी।

स्टार भारत में क्रिकेट का आधिकारिक ब्रॉडकास्टर है लेकिन ये पहला रणजी मैच है जिसका वे टीवी पर प्रसारण कर रहे हैं। हां, इसके पहले उन्होंने कुछ मैचों का प्रसारण हॉटस्टार पर जरूर किया था। यह कहा गया है कि स्टार फर्स्ट फ्री टू एयर चैनल है, इसकी पहुंच बहुत ज्यादा है लेकिन बहुत कम लोग इसके बारे में जानते हैं। लेकिन इसको लेकर बहस भी हो रही है कि क्या लोग रीच का फायदा उठा पाएंगे?

डीटीएच ऑपरेटर्स की इस बदगुमानी के कारण दर्शक कर्नाटक के आर. विनय कुमार की लाइव हैट्रिक नहीं देख पाए। कुछ लोगों ने सोशल मीडिया पर सवाल उठाया है कि स्टार लगातार पुराने मैच, फॉर्मूला वन और अन्य खेलों की हाइलाइट्स दिखा रहा है। लेकिन जो लोग ब्रॉडकास्टिंग बिजनेस में हैं, उनके मुताबिक इसकी जिम्मेदारी सर्विस प्रोवाइडर्स की है। उनका कहना है कि जब एयरटेल दिखा सकता है तो आप क्यों नहीं दिखा सकते?