Ranji Trophy 2018-19: Group c and Plate group, round-2, day-1
Ranji Trophy 2018-19

रणजी ट्रॉफी 2018-19 सीजन में सोमवार से राउंड-2 के मैचों की शुरुआत हुई। इस दौरान ग्रुप सी और प्‍लेट ग्रुप में कुल नौ मुकाबले खेले गए। उत्‍तराखंड के दीपक धपोला ने सात विकेट निकाल मणिपुर के बल्‍लेबाजी क्रम की कमर तोड़ दी। नागालैंड के पवन सुयाल ने भी सिक्किम के खिलाफ पांच विकेट हॉल अपने नाम किया। इसी तरह पुडुचेरी के पारस डोगरा 101(169) ने मेघालय के खिलाफ शतकीय पारी खेली।

प्‍लेट-ग्रुप

अरुणाचल प्रदेश बनाम मिजोरम: पहले बल्‍लेबाजी करते हुए अरुणाचल प्रदेश की टीम 220 रन पर ऑलआउट हो गई। टीम के लिए सर्वाधिक योगदान अखिलेश सहानी 65(118) ने दिया। इसके अलावा क्षितिज शर्मा ने भी 49 रन की पारी खेली। अन्‍य कोई बल्‍लेबाज ज्‍यादा देर क्रीज पर समय नहीं बिता सका। तरुवर कोहली और सिनन अब्‍दुल खादिर ने 3-3 विकेट लिए। दिन का खेल खत्‍म होने तक मिजोरम ने 92/3 रन बना लिए हैं। अखिल राजपूत ने बल्‍लेबाजी के दौरान 73 गेंद पर 57 रन की अहम पारी खेली।

नागालैंड बनाम सिक्किम: पहले बल्‍लेबाजी करते हुए नागालैंड की टीम 179 रन पर ही ऑलआउट हो गई। दिन का खेल खत्‍म होने तक सिक्किम ने भी 120/5 रन बना लिए हैं। सिक्किम के सभी विकेट पवन सुयाल ने निकाले। नागालैंड की तरफ से कप्‍तान रोंगसेन जोनाथन ने 112 गेंद पर 86 रन की पारी खेली। अन्‍य कोई बल्‍लेबाज टीम के लिए बड़ा योगदान नहीं दे पाया। सिक्किम के ईश्‍वर चौधरी ने चार, बिपुल शर्मा ने तीन और मिलिंद कुमार ने दो विकेट निकाले। सिक्किम की तरफ से बल्‍लेबाजी के दौरान मिलिंद कुमार ने सर्वाधिक 78 रन की पारी खेली।

पुडुचेरी बनाम मेघालय: पहले बल्‍लेबाजी करते हुए पुडुचेरी ने मैच के पहले दिन 269/7 रन बना लिए हैं। पारस डोगरा 101(169) ने शतकीय पारी खेली तो कप्‍तान डी रोहित 61(201) और अभिषेक नायर 57(74) ने भी अर्धशतक जड़ा। मेघालय के लखन सिंह, गुरिंदर सिंह को 2-2 विकेट मिले।

उत्‍तराखंड बनाम मणिपुर: मणिपुर की टीम पहले बल्‍लेबाजी के दौरान महज 137 रन ही बना सकी। कप्‍तान यशपाल सिंह ने सर्वाधिक 38 रन बनाए। उत्‍तराखंड के दीपक धपोला ने सात विकेट निकाल मणिपुर के बल्‍लेबाजी क्रम की कमर तोड़ दी। दिन का खेल खत्‍म होने तक उत्‍तराखंड ने भी 123 रन बनाकर अपने पांच विकेट गंवा दिए। करनवीर कौशन ने सर्वाधिक 55 गेंद पर 45 रन बनाए। बिश्वरजीत कॉन्थौजम ने उत्‍तराखंड के तीन विकेट निकाले।

सी ग्रुप

झारखंड बनाम हरियाणा: अजय यादव (4/24) और राहुल शुक्ला (3/24) की शानदार गेंदबाजी के दम पर झारखंड ने हरियाणा की पहली पारी को 81 रनों पर ही समेट दिया। झारखंड ने भी अपनी पहली पारी में स्टम्प्स तक छह विकेट गंवा दिए। उसने अभी 120 रनों का स्कोर बनाया है और 39 रनों की बढ़त ले ली है। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी हरियाणा के लिए शुभम रोहिल्ला (36) और हिमांशु राणा (25) ने सबसे अधिक रन बनाए। इसके अलावा कोई भी बल्लेबाज 10 से अधिक रन नहीं बना सका और टीम की पारी 81 रनों पर ही सिमट गई। हरियाणा के लिए आशीष हुड्डा ने सबसे अधिक चार विकेट लिए हैं।

गोवा बनाम जम्‍मू कश्‍मीर: गोवा क्रिकेट एसोसिएशन अकादमी ग्राउंड पर जारी मैच में गोवा ने सुमिरन अमोनकर (69), कप्तान सगुन कामत (नाबाद 57) के दम पर जम्मू एवं कश्मीर के खिलाफ पहली पारी में दिन का खेल समाप्त होने तक केवल दो विकेट गंवाते हुए 216 रनों का स्कोर खड़ा किया। अमोनकर और कामत के अलावा, अमोघ सुनील देसाई ने 43 रनों का योगदान दिया। कामत के साथ अमित वर्मा 37 रन पर नाबाद हैं।

असम बनाम त्रिपुरा: असम ने दिन का खेल खत्‍म होने तक त्रिपुरा के खिलाफ 268 रनों का स्कोर खड़ा कर दिया। टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरी असम ने परवेज अजीज (88) और ऋशव दास (70) की अर्धशतकीय पारियों के दम पर चार विकेट गंवाकर 268 रनों का स्कोर खड़ा किया। रियान पराग (40) और कप्तान अमित सिन्हा (51) नाबाद हैं। दोनों ने असम के लिए 91 रनों की साझेदारी की है। त्रिपुरा के लिए अभिजीत सरकार ने दो विकेट लिए हैं, वहीं राणा दत्ता और हरमीत सिंह को एक-एक सफलता मिली है।

उत्‍तर प्रदेश बनाम ओडिशा: अंकित राजपूत (3/61) और यश दयाल (3/62) की गेंदबाजी के दम पर उत्तर प्रदेश ने ओडिशा की पहली पारी 256 रनों पर समाप्त कर दी। इसके बाद उत्तर प्रदेश ने अपनी पहली पारी में स्टम्प्स तक 42 रन बना लिए हैं। माधव कौशिक 16 और मोहम्मद सैफ 24 रनों पर नाबाद हैं। ओडिशा के लिए पहली पारी में शुभरांशु सेनापति ने सबसे अधिक 87 रन बनाए। इसके अलावा, सुजीत लेंका ने 46 रनों का योगदान दिया।

राजस्‍थान बनाम सेना: सेना की पहली पारी 228 रनों पर समाप्त हो गई। जिसके बाद राजस्‍थान ने अपनी पहली पारी में दिन का खेल खत्‍म होने तक एक विकेट के नुकसान पर 45 रन बना लिए हैं। राजस्थान के लिए चेतन बिष्ट 22 और कप्तान महिपाल लोमरोर 15 रन बनाकर नाबाद हैं। इसके अलावा, सेना के लिए अंशुल गुप्ता ने सबसे अधिक 54 रन बनाए। विकास हाथवाला ने 49 रनों का योगदान दिया। राजस्‍थान के तनवीर मुशरत उल हक ने सबसे अधिक चार विकेट लिए, वहीं अंकित चौधरी ने सेना के तीन बल्लेबाजों को पवेलियन का रास्ता दिखाया