Ranji Trophy 2018-19, Group C, Roundup, day-4
Ranji Trophy 2018-19

रणजी ट्रॉफी 2018-19 सीजन में रविवार को ग्रुप सी में कुल पांच मुकाबले खेले गए। जिनमें से दो का नतीजा आया, बाकी तीन मुकाबले ड्रॉ पर खत्‍म हुए। राजस्‍थान ने जम्‍मू कश्‍मीर को 75 रन से मात दी। वहीं, उत्‍तर प्रदेश ने गोवा को पारी और 247 रनों से हराया। प्‍लेट ग्रुप के सभी मुकाबलों के नतीजे तीसरे दिन तक ही आ चुके हैं।

राजस्‍थान बनाम जम्‍मू कश्‍मीर: तीसरे दिन का खेल खत्‍म होने तक जम्‍मू कश्‍मीर ने 34 रन बना लिए थे। उन्‍हें मैच जीतने के लिए 361 रन और ड्रॉ के लिए पूरा दिन विकेट पर समय बिताने की दरकार थी। लंच तक जम्‍मू कश्‍मीर ने 142/2 रन बना लिए थे। चाय काल तक 236 रन पर छह विकेट खोने के बाद आखिरी सेशन में जम्‍मू कश्‍मीर ने अपने बाकी चार विकेट भी गंवा दिए। राजस्‍थान ने 75 रन से ये मैच जीत लिया। जम्‍मू कश्‍मीर के कप्‍तान परवेज रसूल 110(151) ने शतकीय पारी खेलकर मैच बचाने का भरपूर प्रयास किया, लेकिन राजस्‍थान के गेंदबाज राहुल चहर और नत्‍थू सिंह ने दूसरी पारी में 4-4 विकेट निकाल ऐसा नहीं होने दिया।

ओडिशा बनाम हरियाणा: दोनों टीमों के बीच मैच ड्रॉ रहा। ओडिशा ने पहले बल्‍लेबाजी करते हुए अनुराग सारंगी 114(190) के शतक की मदद से 324 रन बनाए। जवाब में हरियाणा की टीम अपनी पहली पारी में 442 रन पर ऑलआउट हुई। मैच में चौथे और आखिरी दिन चाय काल तक ओडिशा ने 212/6 रन बना लिए थे। जिसके बाद दोनों टीमाें ने मिलकर मैच ड्रॉ पर खत्‍म करने का निर्णय लिया। हरियाणा के लिए हिमांशु राणा 164(231) ने शतकीय पारी खेली तो ओडिशा के कप्‍तान बिपलब समंतरे 103(210) ने भी शतक जड़ा। हिमांशु राणा को मैन ऑफ द मैच दिया गया।

झारखंड बनाम असम: इस मैच में नतीजा आने की संभावना बेहद कम भी। देर शाम खराब रौशनी के कारण मैच बराबरी पर खत्‍म हुआ। पहले बल्‍लेबाजी के दौरान झारखंड ने 344 रन बनाए। जवाब में असम की टीम 298 रन पर ऑलआउट हुई। मैच के चौथे दिन झारखंड ने अपनी दूसरी पारी पहले सेशन में 230/4 पर घोषित की और असम को जीत के लिए 277 का लक्ष्‍य दिया। आखिरी सेशन तक असम ने 140/2 रन बनाए। जिसके बाद खराब रौशनी के कारण मैच ड्रॉ पर खत्‍म कर दिया गया।

त्रिपुरा बनाम सेना: ये मैच भी बराबरी पर ही खत्‍म हुआ। बिशाल घोष 201(369) के दौहरे शतक की मदद से त्रिपुरा ने पहली पारी में 360 रन बनाए थे। जवाब में सेना की टीम 238 पर ऑलआउट हुई। त्रिपुरा ने उदियन बोस 109(170) के शतक की मदद से चौथे दिन लंच से पहले 232/2 पर पारी घोषित की। चाय काल तक सेना ने 139 रन पर ही अपने छह विकेट गंवा दिए थे। खराब रौशनी के कारण जिस वक्‍त ये मैच ड्रा पर खत्‍म किया गया उस समय सेना का स्‍कोर 164/6 था। उन्‍हें जीत के लिए 191 रन और मैच बचाने के लिए बाकी समय पिच पर खड़े रहने की दरकार थी। मैच के दौरान मणिशंकर द्वारा पहले पारी में गेंदबाजी के दौरान सात विकेट निकालना मुख्‍य आकर्षण रहा।

उत्‍तर प्रदेश बनाम गोवा: उत्‍तर प्रदेश ने इस मैच में गोवा को पारी और 247 रन से हराया। मैच के तीसरे दिन ही स्‍टंप्‍स तक गोवा का स्‍कोर दूसरी पारी में 123/8 था। वो उत्‍तर प्रदेश के स्‍कोर से 289 रन पीछे था। उत्‍तर प्रदेश की जीत लगभग तय थी। गोवा पहली पारी में 152 पर ऑलआउट हुआ। जिसके बाद उत्‍तर प्रदेश ने 564/4 का विशाल स्‍कोर बना पारी घोषित की। उत्‍तर प्रदेश की तरफ से मोहम्‍मद सैफ 126(250), कप्‍तानी अक्षदीप नाथ 194(304) और प्रियम गर्ग 117(181) ने शतक जड़ा। जिसके बाद उत्‍तर प्रदेश को दोबारा बल्‍लेबाजी के लिए आने की जरूरत नहीं पड़ी। गोवा दूसरी पारी में 165 रन पर ऑलआउट हो गया। दूसरी पारी में उत्‍तर प्रदेश के अंकित राजपूत ने पांच और सौरभ कुमार ने चार विकेट निकाले। अक्षदीप नाथ को मैन ऑफ द मैच दिया गया।