Ranji Trophy 2018-19: Madhya Pradesh vs Himachal Pradesh, Chhattisgarh vs Karnatak, Tripura vs Jharkhand

कुमार कार्तिकेय (58 रन पर तीन विकेट) और कुलदीप सेन (30 रन पर दो विकेट) की शानदार गेंदबाजी के दम पर मध्य प्रदेश ने रणजी ट्रॉफी 2018-19 एलीट ग्रुप बी मैच में मंगलवार को हिमाचल प्रदेश को 140 रन से शिकस्त दी। जीत के लिए 332 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी हिमाचल प्रदेश की टीम 44.4 ओवर में 191 रन पर आउट हो गयी।

इस जीत से मध्य प्रदेश को छह अंक मिले जिससे टीम ग्रुप बी की तालिका में 24 अंक के साथ वो शीर्ष पर पहुंच गए। हिमाचल प्रदेश 22 अंक के साथ दूसरे स्थान पर है। इससे पहले मध्य प्रदेश ने दिन की शुरुआत दो विकेट पर 47 रन से की लेकिन गुरविंदर सिंह की फिरकी में फंसकर टीम 193 पर ऑल आउट हो गयी। गुरविंदर ने 63 रन देकर छह विकेट लिये।

पढ़ें:- पूर्व कंगारू दिग्‍गज बोले- जसप्रीत बुमराह का सामना करना बुरे सपने जैसा

त्रिपुरा बनाम झारखंड

विशाल घोष (61) और उदियान बोस (नाबाद 73) की अर्धशतकीय पारियों और दोनों के बीच दूसरे विकेट के लिए 110 रन की साझेदारी से त्रिपुरा ने रणजी ट्रॉफी एलीट ग्रुप सी मैच में मंगलवार को झारखंड के खिलाफ दूसरी पारी में दो विकेट पर 146 रन बना लिये।

त्रिपुरा की टीम अब भी झारखंड की पहली पारी के आधार पर 10 रन पीछे है और उसके आठ विकेट बचे हैं। दिन का खेल खत्म होते समय उदियान बोस के साथ निरूपम सेन चौधरी सात रन बनाकर खेल रहे हैं।

पढ़े:- रिषभ पंत ने स्‍वीकारा चैलेंज, बने टिम पेन के बच्‍चों के बेबी सिटर

इससे पहले झारखंड ने दिन की शुरूआत चार विकेट पर 307 रन से की। कल 136 रन पर नाबाद रहे सलामी बल्लेबाज कुमार देवब्रत के 150 और कप्तान इशान किशन के 39 रन से टीम ने ऑल आउट होने से पहले 409 रन बनाये। नीलांबुज वत्स त्रिपुरा के सबसे सफल गेंदबाज रहे। उन्होंने 50 रन देकर पांच विकेट लिये।

छत्‍तीसगढ़ बनाम कर्नाटक

रोनित मोरे और अभिमन्यु मिथुन की उम्दा गेंदबाजी की मदद से कर्नाटक ने रणजी ट्रॉफी एलीट ग्रुप ए मैच के तीसरे दिन मंगलवार को छत्तीसगढ को पहली पारी में 283 रन पर आउट करके अहम बढ़त ले ली।

पढ़ें:- बॉर्डर-गावस्‍कर ट्रॉफी की क्‍लोजिंग सेरेमनी से सुनील गावस्‍कर ने बनाई दूरी

कर्नाटक ने पहली पारी में 418 रन बनाये थे और तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक दूसरी पारी के चार विकेट 113 रन पर गंवा दिये। उसके पास कुल 248 रन की बढ़़त हो गई है और उसके छह विकेट बाकी है जबकि कल पूरे दिन का खेल बचा है। कप्तान मनीष पांडे 57 और श्रेयस गोपाल 21 रन बनाकर खेल रहे हैं।

इससे पहले कप्तान हरप्रीत सिंह के 120 रन के बावजूद छत्तीसगढ़ की टीम कर्नाटक के पहली पारी के स्कोर के आसपास भी नहीं पहुंच सकी। हरप्रीत ने 239 गेंद की अपनी पारी में 14 चौके लगाये लेकिन उनके अलावा कोई बल्लेबाज टिककर नहीं खेल सका। कर्नाटक के लिये मोरे ने पांच और मिथुन ने चार विकेट लिये।