Ranji Trophy 2018-19: Mohammed Mudhasir claims 4 wickets in 4 balls against Rajasthan
Mohammed Mudhasir (photo:Twitter)

जम्‍मू एंड कश्‍मीर टीम के तेज गेंदबाज मोहम्‍मद मुदसीर ने रणजी ट्रॉफी 2018-19 सीजन के दूसरे ही दिन हैट्रिक लेकर विपक्षी खेमे में खलबली मचा दी है। इतना ही नहीं मुदसीर ने लगातार चार गेंदों पर चार विकेट लिए।

मुदसीर फर्स्‍ट क्‍लास क्रिकेट में ये उपलब्धि हासिल करने वाले जेएंडके के पहले गेंदबाज हैं।

इस समय जम्‍मू एंड कश्‍मीर और राजस्‍थान के बीच सवाई मानसिंह स्‍टेडियम में रणजी ट्रॉफी मुकाबला खेला जा रहा है। इस मुकाबले में जेएंडके ने टॉस जीतकर मेजबान राजस्‍थान को पहले बल्‍लेबाजी के लिए आमंत्रित किया।

राजस्‍थान ने पहले दिन गुरुवार को 3 विकेट पर 300 रन बना लिए थे। दूसरे दिन मुदसीर ने अशोक मेनारिया को 59 रन के निजी योग पर आउट कर राजस्‍थान का शुरुआती झटका दिया।

मेनारिया चौथे विकेट पर चेतन बिष्‍ट के साथ 115 रन की साझेदारी कर चुके थे। इसके बाद मुदसीर ने 159 रन की पारी खेलने वाले चेतन को भी पवेलियन की राह दिखा दी।

मुदसीर ने इन 3 खिलाडि़यों को आउट कर बनाई हैट्रिक

पारी के 98.2 ओवर में 30 साल के मोम्‍मद मुदसीर ने चेतन बिष्‍ट को एलबीडब्‍ल्‍यू आउट किया। इस ओवर की तीसरी गेंद पर तजिंदर सिंह भी विकेट के आगे पकड़े गए। यानी वो भी एलबीडब्‍ल्‍यू आउट हो गए। इसके बाद चौथी गेंद पर राहुल चाहर को मुदसीर ने एलबीडब्‍ल्‍यू आउट कर अपनी हैट्रिक पूरी की।

मुदसीर यहीं नहीं रूके उन्‍होंने इस ओवर की पांचवीं गेंद पर टीएम उल हक को पवेलियन की राह दिखाई।

पहली पारी में 5 विकेट झटके

मुदसीर ने पहली पारी में कुल पांच विकेट झटके। उन्‍होंने 29 ओवर की गेंदबाजी की जिसमें 6 ओवर मेडन रखते हुए 90 रन दिए। इस तेज गेंदबाज के शानदार प्रदर्शन के कारण जेएंडके टीम राजस्‍थान को पहली पारी में 379 रन पर रोकने में सफल रही।

तब विजय हजारे ट्रॉफी में हासिल की थे ये उपलब्धि

मुदसीर के लिए ये पहला मौका नहीं है जब उन्‍होंने किसी मैच में हैट्रिक ली हो। इससे पहले वर्ष 2007 में उन्‍होंने विजय हजारे ट्रॉफी में ये उपलब्धि हासिल की थी। तब मुदसीर क्रिकेट के किसी भी फॉर्मेट में हैट्रिक लेने वाले जेएंडके के पहले खिलाड़ी बने थे।

फर्स्‍ट क्‍लास में लगातार 4 विकेट और सभी एलबीडब्‍ल्‍यू आउट करने वाले पहले गेंदबाज बने

लगातार चार विकेट और सभी एलबीडब्‍ल्‍यू आउट करने वाले मुदसीर फर्स्‍ट क्‍लास क्रिकेट के इतिहास में पहले गेंदबाज बन गए हैं।