Ranji Trophy 2018-19: Mumbai vs Vidarbha, Round 8, Group A, Day 3

रिकार्ड 41 बार का रणजी ट्रॉफी चैंपियन मुंबई का एक और खिताब जीतने का सपना मंगलवार को विदर्भ ने तोड़ दिया। विदर्भ ने मुंबई को राउंड-8 के मुकाबले में पारी और 145 रन से करारी मात दी।

मुंबई को नॉकआउट में जगह बनाने की उम्मीदों को जीवंत रखने के लिये ग्रुप ए के इस मैच में जीत की दरकार थी लेकिन उसका लचर प्रदर्शन जारी रहा। विदर्भ ने बायें हाथ के स्पिनर आदित्य सरवटे (48 रन देकर छह विकेट) की शानदार गेंदबाजी से फॉलोऑन के लिये उतरे मुंबई को दूसरी पारी में 113 रन पर ढेर कर दिया।

पढ़ें:- रोहित शर्मा के बाद डेविड वार्नर को भी मिली खुशखबरी, नए साल में बनेंगे पिता

पहली पारी में 259 रन से पिछड़ने के बाद मुंबई को फॉलोऑन खेलना पड़ा। उसके बल्लेबाजों ने बेहद खराब प्रदर्शन किया और 34.4 ओवर में पूरी टीम आउट हो गयी। मातकर ने सर्वाधिक 35 रन बनाये। विदर्भ के लिये सरवटे के अलावा वाखरे और कर्णवीर ने दो-दो विकेट लिये।

मुंबई इस सीजन में अब तक एक भी मैच नहीं जीत पाया और विदर्भ के खिलाफ भी उसकी टीम दोयम दर्जे की साबित हुई। विदर्भ ने पहली पारी में 511 रन बनाकर मुंबई को 252 रन पर समेट दिया था।

पढ़ें:- बॉर्डर-गावस्‍कर ट्रॉफी की क्‍लोजिंग सेरेमनी से सुनील गावस्‍कर ने बनाई दूरी

मुंबई ने खेल के तीसरे दिन सुबह अपनी पहली पारी छह विकेट पर 169 रन से आगे बढ़ायी लेकिन ध्रुमिल मातकर के नाबाद 62 रन के बावजूद वह फॉलोऑन बचाने में नाकाम रहा। विदर्भ की तरफ से ऑफ स्पिनर अक्षय वाखरे ने 85 रन देकर पांच, सरवटे ने 86 रन देकर तीन और अक्षय कर्णवीर ने 59 रन देकर दो विकेट लिये।

मुंबई की सात मैचों में यह दूसरी हार है। उसके पांच ड्रॉ से केवल 11 अंक हैं। उसे अंतिम दौर में छत्तीसगढ़ से भिड़ना है। दूसरी तरफ विदर्भ को इस जीत से सात अंक मिले और वह सात मैचों में तीन जीत से 28 अंक लेकर ग्रुप ए में शीर्ष पर पहुंच गया है।

ग्रुप ए और बी से चोटी पर रहने वाली पांच टीमें क्वार्टर फाइनल में जगह बनाएंगी जो 15 जनवरी से खेले जाएंगे। मुंबई अगले मैच में बोनस अंक सहित जीत दर्ज करने पर भी शीर्ष पांच में शामिल नहीं हो पाएगा।