Ranji Trophy 2018-19: Pankaj Singh becomes first medium-pacer to 400 wickets
pankaj-singh (Image courtesy: Instagtram)

वर्तमान में पुड्डुचेरी क्रिकेट टीम की ओर से खेल रहे मध्‍यम गति के तेज गेंदबाज पंकज सिंह ने बुधवार को रणजी ट्रॉफी मैच में एक बड़ी उपलब्धि अपने नाम कर ली।

33 वर्षीय पंकज रणजी ट्रॉफी के इतिहास में 400 या उससे अधिक विकेट लेने वाले कुल 10वें जबकि बतौर मीडियम पेसर पहले गेंदबाज बन गए हैं।

पढ़ें: ICC ODI Ranking : बुमराह टॉप पर कायम, सोढ़ी और फर्ग्‍यूसन की लंबी छलांग

राजस्‍थान क्रिकेट टीम के इस पूर्व तेज गेंदबाज के लिए मौजूदा रणजी सीजन अब तक शानदार रहा है। उन्‍होंने इस सीजन में तीन बार पांच विकेट हॉल और एक बार मैच में 10 विकेट हॉल अपने नाम किया है।

पंकज पूर्व दिग्‍गज स्पिनर एस वेंकटराघव, सुनील जोशी और बिशन सिंह बेदी के क्‍लब में शामिल हो गए हैं जिन्‍होंने इस घरेलू टूर्नामेंट में 400 से अधिक विकेट अपने नाम किए हैं।

खिलाड़ी विकेट
राजिंदर गोयल 637
एस.वेंकटराघवन 530
सुनील जोशी 479
नरेंद्र हिरवानी 441
बीएस चंद्रशेखर 437
वीवी कुमार 418
सईराज बहुतुले 405
बिशन सिंह बेदी 403
पंकज सिंह 403
उत्‍पल चटर्जी 401

पंकज का 400वां शिकार मणिपुर के ओपनर हार्दिक कनोजिया बने। इस तेज गेंदबाज ने राउंड 9 मैच की दूसरी पारी में ये उपलब्धि हासिल की। पंकज 2018-19 रणजी ट्रॉफी में आठ मैचों में कुल 42 विकेट झटक चुके हैं।

पढ़ें: सरफराज के बयान से पाक गेंदबाज हतोत्साहित, खराब हुआ ड्रेसिंगरूम का माहौल

मौजूदा सीजन में पंकज सबसे अधिक विकेट लेने वाले टॉप 10 गेंदबाजों में शामिल हैं। इससे पहले पंकज ने मिजोरम के खिलाफ मुकाबले में पांच विकेट हॉल अपने नाम किया था। इसके साथ ही पंकज 17 टीमों के खिलाफ पारी में पांच विकेट लेने वाले पहले गेंदबाज बने थे।

इससे पहले रणजी ट्रॉफी में 16 टीमों के खिलाफ पूर्व स्पिनर सुनील जोशी ने पारी में 5 या इससे अधिक विकेट लिए थे।

राजस्‍थान की ओर से रणजी करियर की शुरुआत की थी 

पंकज ने अपने रणजी करियर की शुरुआत 2004 में राजस्‍थान की ओर से की। उन्‍होंने 14 साल तक राजस्‍थान के लिए खेला। इस दौरान पंकज ने 85 मैचों में 361 विकेट अपने नाम किए। मौजूदा घरेलू मीडियम पेसरों में कर्नाटक के आर विनय कुमार 104 मैचों में 392 विकेट ले चुके हैं।