Ranji Trophy 2018-19: Wasim Jaffer competes 19,000 runs with double century against Uttarakhand
Wasim Jaffer (File Photo) © PTI

रणजी ट्रॉफी के क्‍वार्टर फाइनल मुकाबले में गुरुवार को वसीम जाफर ने एक और कीर्तिमान अपने नाम किया। विदर्भ की तरफ से खेलते हुए जाफर ने दोहरा शतक जड़ टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचाया। इसके साथ ही उन्‍होंने अपने 251 फार्स्‍ट क्‍लास मैच में 19 हजार रन भी पूरे कर लिए हैं।

भारतीय फर्स्‍ट क्‍लास क्रिकेट के इतिहास में केवल चार खिलाड़ी ही ऐसे हैं जिनके वसीम जाफर से ज्‍यादा रन हैं। सुनील गावस्‍कर 25,834 रनों के साथ इस फेहरिस्‍त में पहले स्‍थान पर हैं। सचिन तेंदुलकर (25,396) गावस्‍कर से महज 438 रन ही पीछे रहते हुए दूसरे स्‍थान पर हैं। तीसरे स्‍थान पर राहुल द्रविड़ (23,794) और चौथे स्‍थान पर वीवीएस लक्ष्‍मण (19,730) हैं।

पढ़ें:-  ‘माही भाई की बल्लेबाजी से बाकी बल्लेबाजों को आत्मविश्वास मिलता है’

वसीम जाफर के अब फर्स्‍ट क्‍लास करियर में 19,079 रन हो गए हैं। वो वीवीएस लक्ष्‍मण के स्‍कोर को पीछे छोड़ने से ज्‍यादा दूर नहीं हैं। मौजूदा मैच में उन्‍होंने 296 गेंद पर 206 रन की पारी खेली। इस दौरान उन्‍होंने 26 चौके लगाए। उत्‍तराखंड के खिलाफ इस मैच में विदर्भ ने 438/5 रन बनाकर 86 रनों की बढ़त बना ली है।

मौजूदा सीजन में जाफर 86 से अधिक की औसत से 969 रन बना चुके हैं। 206 रन की पारी से पहले पिछली तीन पारियों में उन्‍होंने 98, 178 और 126 रन बनाए हैं। वो लगातार अच्‍छा प्रदर्शन कर रहे हैं। अपने करियर में जाफर ने आज नाैवीं बार 200 से ज्‍यादा रन बनाए। वो दाे बार तिहरा शतक भी लगा चुके हैं।

पढ़ें:-  केरल पहली बार रणजी सेमीफाइनल में, गुजरात पर दर्ज की 123 रन की बड़ी जीत

वसीम जाफर ने साल 2015 में मुंबई का साथ छोड़ा था। जिसके बाद वो वेस्‍ट जोन के साथ भी जुड़े। साल 2015 में वो रणजी ट्रॉफी क्रिकेट के इतिहास में 10 हजार रन पूरे करने वाले पहले खिलाड़ी बने थे। टीम इंडिया के लिए वो 31 टेस्‍ट मैच खेल चुके हैं, जिसमें उन्‍होंने 34.10 की औसत से 1,944 रन बनाए थे। इस दौरान उन्‍होंने एक दोहरा शतक भी लगाया।