Ranji Trophy Semi Final: vidarbha vs kerala, Day 1
Wasim Jaffer (File Photo) @ BCCI

उमेश यादव के सात विकेटों के दम पर मौजूदा विजेता विदर्भ ने रणजी ट्रॉफी 2018-19 के सेमीफाइनल मुकाबले के पहले दिन गुरुवार को केरल को पहली पारी में 106 रनों पर समेट दिया। दिन का खेल खत्म होने तक विदर्भ ने 171/5 रन बना लिए। साथ ही केरल पर 65 रनों की बढ़त ले ली है।

विदर्भ के कप्तान फैज फजल ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। उमेश अपने कप्तान के भरोसे पर खरे उतरे। केरल के सिर्फ तीन ही बल्लेबाज दहाई के आंकड़े को छू सके। उसके लिए विष्णु विनोद ने सबसे ज्यादा 37 रन बनाए। कप्तान सचिन बेबी ने 22 और बासिल थम्पी ने 10 रन बनाए।

पढ़े:- नेपियर में 8 विकेट से जीता भारत, न्यूजीलैंड पर 1-0 की बढ़त

उमेश के अलावा रजनीश गुरबानी ने तीन विकेट लिए। अपनी पहली पारी खेलने उतरी मौजूदा विजेता विदर्भ का पहला विकेट 33 के कुल स्कोर पर संजय रामास्वामी (19) के रूप में गिरा। इसके बाद कप्तान को अनुभवी बल्लेबाज वसीम जाफर का साथ मिला। दोनों ने टीम का स्कोर 113 तक पहुंचाया। जाफर को उनके 34 के निजी स्कोर पर मोहम्मद निद्देश ने आउट किया।

आउट होने से पहले जाफर अपने नाम एक रिकार्ड और दर्ज करा गए। वह रणजी ट्रॉफी के इतिहास में पहले ऐसे बल्लेबाज हैं जिन्होंने दो सीजन में 1000 से ज्यादा रन पूरे किए हैं। इस मैच से पहले जाफर को इस रिकार्ड को अपने नाम करने के लिए सिर्फ 31 रनों की दरकार थी।

पढ़ें:- उमेश यादव ने झटके 7 विकेट, 106 रन पर सिमटी केरल की पहली पारी

जाफर ने इससे पहले 2008-09 में मुंबई से खेलते हुए 1260 रन बनाए थे। इस मैच में वह इस सीजन की 12 पारियों में 80.75 की औसत से 969 रन अपने खाते में लेकर उतरे थे। अब उनके 1004 रन हो गए हैं।

कप्तान फैज (74) की पारी का अंत संदीप वॉरियर ने 170 रनों के कुल स्कोर पर किया। फैज ने 142 गेंदों की पारी में 13 चौके लगाए। उनके जाने के एक रन बाद नाइट वॉचमैन गुरबानी बिना खाता खोले थम्पी का शिकार होकर पवेलियन लौट लिए। अर्थव ताइदे (23) भी 171 को कुल स्कोर पर आउट हुए। इसी के साथ दिन का खेल खत्म होने की घोषणा कर दी गई।

(एजेंसी)