Rashid Latif said India are repeating same mistake as Pakistan’s in 1990s
TWITTER/@CricCrazyJohns

BCCI ने शनिवार, 30 जुलाई को जिम्बाब्वे के खिलाफ 18 अगस्त से शुरू हो रही तीन मैचों की वनडे सीरीज के लिए टीम की घोषणा की। इस सीरीज में भारतीय टीम की कप्तानी शिखर धवन संभालेंगे क्‍योंकि नियमित कप्‍तान रोहित शर्मा को आराम दिया गया है। धवन की कप्तानी में भारतीय टीम मेजबान वेस्टइंडीज को वनडे सीरीज में 3-0 से हराने का बड़ा कारनामा कर चुका है। जिम्बाब्वे दौरे पर विराट कोहली, हार्दिक पंड्या, जसप्रीत बुमराह, ऋषभ पंत और मोहम्‍मद शमी भी टीम का हिस्सा नहीं होंगे क्योंकि सभी को आराम दिया गया है।

टीम इंडिया के प्रमुख खिलाड़ियों को आराम दिए जाने के चलते पिछले एक साल में हम टीम इंडिया के 7 अलग-अलग कप्तान देख चुके हैं। विराट कोहली के कप्तानी छोड़ने के बाद रोहित को तीनों टीमों की कमान सौंपी गई। कोहली के बाद से तीनों फॉर्मेट में BCCI रोहित शर्मा के अलावा केएल राहुल, ऋषभ पंत, हार्दिक पांड्या, जसप्रीत बुमराह और शिखर धवन को कप्तान बना चुका है। BCCI के इस फैसले पर अब पाकिस्तान के पूर्व कप्तान राशिद लतीफ का बड़ा बयान आया है।

राशिद लतीफ का कहना है कि कप्तानी में ये रोटेशन टीम इंडिया के लिए अच्छा नहीं और उनका मानना ​​है कि भारत वही गलती कर रहा है जो पाकिस्तान ने 1990 के दशक में की थी। राशिद लतीफ ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा, “हर कोई बैकअप के बारे में बात करता है। लेकिन उन्होंने पिछले एक साल में सात बैकअप कप्तान बनाए हैं! यह भारत के इतिहास में पहली बार देखने को मिल रहा है। विराट कोहली, केएल राहुल, रोहित शर्मा, शिखर धवन, ऋषभ पंत, जसप्रीत बुमराह। वे वही गलती दोहरा रहे हैं जो 1990 के दशक में पाकिस्तान ने की थी।

स्टार ओपनिंग बल्लेबाज केएल राहुल तीनों प्रारूपों में उपकप्तान हैं, लेकिन मई के अंत में इंडियन प्रीमियर लीग 2022 के बाद से उन्होंने एक भी मैच नहीं खेला है। पिछले कुछ महीनों से वो चोटों से जूझ रहे हैं और हाल ही में कोरोना वायरस के कारण वेस्टइंडीज दौरे पर वापसी करने से चूक गए। यह साफ है कि भारत भविष्य की कप्तानी के लिए विकल्पों की तलाश कर रहा है, लेकिन लतीफ का मानना है कि कोई भी मौजूदा कप्तानी विकल्प नियमित क्रिकेट नहीं खेल रहा है और भारत को एक ऐसे कप्तान की जरूरत है जो पूर्व कप्तान सौरव गांगुली, एमएस धोनी और कोहली जैसा हो।

लतीफ ने आगे कहा, “उन्हें अभी तक कोई मजबूत सलामी बल्लेबाज नहीं मिल पाया है और न ही उनके पास स्थिर मिडिल ऑर्डर है। उन्हें बस एक नया कप्तान चाहिए। कोई भी कप्तान उनके लिए लगातार नहीं खेल रहा है। केएल राहुल अनफिट हैं, रोहित पहले अनफिट थे। विराट मानसिक रूप से फिट नहीं हैं। ऐसे में उन्हें इस बारे में सोचना होगा। वे इतने सारे कप्तान बदल रहे हैं। उन्हें सौरव गांगुली, एमएस धोनी और विराट कोहली जैसे कप्तान की जरूरत है।”