Ravi Shastri: Around four to five of our core are missing but we have options
जसप्रीत बुमराह के साथ भारतीय कोच रवि शास्त्री (IANS)

टी20 सीरीज में शानदार बल्लेबाजी का प्रदर्शन कर रहे टीम इंडिया के उप कप्तान रोहित शर्मा के चोटिल होने के बाद उन्हें न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे और फिर टेस्ट सीरीज से बाहर करना पड़ा। हालांकि रोहित अकेले भारतीय खिलाड़ी नहीं हैं जो कि चोट की वजह से न्यूजीलैंड के खिलाफ दो मैचों की टेस्ट सीरीज का हिस्सा नहीं होंगे।

रणजी ट्रॉफी के दौरान चोटिल हुएओ तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा पूरी तरह फिट नहीं हैं, वहीं भुवनेश्वर कुमार, शिखर धवन और हार्दिक पांड्या पहले से ही सीरीज से बाहर हैं। सीरीज शुरू होने से पहले टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री ने खुद कहा कि टीम के कई अहम खिलाड़ी चोटिल हैं लेकिन मजबूत बेंच स्ट्रैंथ टीम को विकल्प देगी।

टीम इंडिया के कोच शास्त्री ने कहा, “हमारे चार-पांच कोर खिलाड़ी यहां नहीं हैं। यहां के हालातों में भुवी बेहद सफल होता लेकिन कोई बात नहीं। इसलिए ही मैंने कहा था कि विकल्प होना हमेशा ही टीम के भले में होता है।”

 क्या नया लोगो विराट कोहली की कप्तानी वाली RCB फ्रेंचाइजी की किस्मत बदल पाएगा?

इशांत और भुवी की गैर मौजूदगी में तेज गेंदबाजी अटैक का पूरा जिम्मा जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी पर आ जाएगा। हालांकि बुमराह के लिए सीमित ओवर फॉर्मेट सीरीज खास नहीं रही थी लेकिन उम्मीद है कि टीम इंडिया के सबसे अहम गेंदबाज टेस्ट सीरीज में वापसी करेंगे।

नंबर-1 टेस्ट टीम की तरह खेलेगा भारत

कोच ने आगे कहा, “हमें लॉर्ड्स में (विश्व टेस्ट चैंपियनशिप) खेलने के लिए 100 अंक चाहिए। इसलिए छह विदेशी टेस्ट मैचों में से दो जीत काफी होंगी। हम इस साल विदेशी जमीन पर 6 टेस्ट मैच खेलने वाले हैं। इसलिए, ये हमारा पहला लक्ष्य है। दूसरा लक्ष्य है- नंबर वन टीम की तरह खेलना क्योंकि हमारी टीम किसी भी और चीज से ज्यादा इस बात में विश्वास रखती है। टेस्ट सीरीज में हम यही करने का सोच रहे हैं।”

वनडे-टी20 में शानदार प्रदर्शन करने के बावजूद टेस्ट स्क्वाड में जगह ना बना पाने वाले केएल राहुल के बारे में कोच ने कहा, “ये लगभग वैसा ही है जैसे अतिरिक्त जिम्मेदारी की वजह से वो खुद को खेल से और ज्यादा जोड़ पाता है। वो फिलहाल अच्छे स्पेस में है और थोड़ा आराम मिलने से अच्छा ही होगा।”